पानीपत के भादड़ गांव की रितु खोखर का कमाल, UPSC-2017 की परीक्षा में हासिल किया 141वां रैंक

Breaking देश बड़ी ख़बरें युवा युवा चैम्पियन सरकार-प्रशासन हरियाणा

Gourav Sagwal

Yuva Haryana

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की सिविल सर्विस परीक्षा में पानीपत के भादड़ गांव की बेटी रितु खोकर ने 141वां रैंक पाकर देश में प्रदेश का नाम किय है। रितु ने इस सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को दिया है। रितु का कहना है कि लड़कियों और महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए काम करने की इच्छा ने ही आज उन्हें इस मुकाम तक पहुंचाया है।

​रितु ने इच्छा ज़ाहिर की है कि वह झारखंड में ​जाकर ​​नक्सलियों का सफाया करना चाहती है। उन्होंने कहा कि वह महिलाओं को सुरक्षित वातावरण देना चाहती है। उनको बराबर का हक मिले इसका निरंतर प्रयास करेगी। रितु ने आईएएस बनने के लिए किसी भी कोचिंग सेंटर में कोचिंग नहीं ली, बल्कि घर पर ही रहकर तैयारी की। वह हर रोज 15 घंटे तक पढ़ती थी। रितु निर्धन वर्ग के बच्चों को भी निशुल्क ट्यूशन देती है।

वहीं रितु के माता-पिता का कहना है कि उनका बहुत बड़ा सपना पूरा हो गया है। उनके घर पर ​गांव के लोग बधाई देने पहुंच रहे है। रितु गांव की पहली लड़की है जिसने ​​सिविल सर्विस की परीक्षा पास की है। नियुक्ति मिलने पर सबसे पहले वो बेटियों के प्रति देशभर में बने माहौल को सुधारने के लिए काम करेगी।

रितु के पिता ताराचंद बीकॉम पास पूर्व सरपंच रहे है और मां सुनीता ग्रेजुएशन पास भी भादड़ में पूर्व सरपंच रहीं है। 23 अक्टूबर 1994 को गांव भादढ़ में जन्मी रितु की प्रारंभिक शिक्षा गांव में हुई। रितु ने 12वीं कक्षा राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल, मॉडल टाउन, पानीपत से पास की थी । रितु ने 12वीं कक्षा में 96 प्रतिशत नंबर प्राप्त किए थे । रितु ने बीएससी में 86, तो एमएससी मैथ में 88.25 प्रतिशत अंक प्राप्त कर गोल्ड मेडल जीता था। जिसके लिए देश के गृह मंत्री राजनाथ सिंह भी रितु को सम्मानित कर चुके हैं।

यह भी पढ़े-

UPSC सिविल सर्विस परीक्षा में सोनीपत की बेटी छाई, दूसरा स्थान हासिल कर चमकाया नाम

1 thought on “पानीपत के भादड़ गांव की रितु खोखर का कमाल, UPSC-2017 की परीक्षा में हासिल किया 141वां रैंक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *