रोडवेज कर्मचारियों ने सर्व कर्मचारी संघ पर उठाए सवाल, विपक्ष ने नेताओं को सौंपे ज्ञापन

Breaking बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana

Chandigarh, 07 Sept, 2018

हरियाणा रोड़वेज वर्कर्स ज्वाईन्ट एक्शन कमेटी के वरिष्ठ सदस्य बलवान सिंह दोदवा ने ब्यान जारी करते हुए बताया कि राज्य प्रधान हरिनारायण शर्मा के नेतृत्व में ज्वाईन्ट एक्शन कमेटी के वरिष्ठ सदस्य अनुप‌‌ सहरावत, जयभगवान कादियान, आजाद गिल व नसीब जाखड़ ने सरकार की तानाशाही, दमनकारी नीतियों, लाठीचार्ज व एस्मा जैसे काले कानून के खिलाफ ‌भुतपूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, प्रतिपक्ष नेता अभय चौटाला, चौधरी रणदीप सिंह सुरजेवाला, किरण चौधरी तथा सत्ता‌ व विपक्ष पक्ष के सभी विधायकों को ज्ञापन सौंपे गए हैं, जिसमें रोड़वेज कर्मचारियों के मुद्दे को विधानसभा में जोर-शोर से उठाने की मांग की गई है। सभी विधायकों ने आश्वासन दिया है कि हम रोड़वेज कर्मचारियों पर हुए लाठीचार्ज व एस्मा लगाने के मुद्दे को प्रमुखता से उठाएंगे।

ज्वाईन्ट एक्शन कमेटी के वरिष्ठ सदस्य हरिनारायण शर्मा,अनुप सहरावत, जयभगवान कादियान, आजाद गिल व बलवान सिंह दोदवा ने बताया कि 5 सितम्बर की हड़ताल एक ऐतिहासिक हड़ताल साबित हुई
है क्योंकि सर्व कर्मचारी संघ का सरकार के साथ खुला समर्थन होने के बावजूद भी एस्मा जैसे काले कानून को रौंदते हुए, बगैर किसी खौफ के रोड़वेज का प्रत्येक कर्मचारी हड़ताल पर गया है तथा सरकार को ‌मुंहतोड़ जवाब दिया ‌है। रोड़वेज कर्मचारी किसी भी सूरत में चुप बैठने वाला नही है तथा एक बार फिर सरकार के साथ आर-पार के आन्दोलन की होगी घोषणा।

ज्वाईन्ट एक्शन कमेटी किसी भी सूरत में 720 बसों को किलोमीटर स्किम पर रोड़वेज के बेड़े में नहीं आने देंगी। जिस दिन भी सरकार ने इन बसों को विभाग में लाने का प्रयास किया उसी दिन रोड़वेज का फिर से चक्का जाम होगा।

उन्होंने बताया कि रोड़वेज कर्मचारियों पर एस्मा लगवाने तथा लाठीचार्ज करवाने में सर्व कर्मचारी संघ का पुरा-पुरा हाथ है। सर्व कर्मचारी संघ ने आज प्रैस में ब्यान जारी करके घड़ियाल आंसु बहाते हुए रोड़वेज कर्मचारियों के प्रति हमदर्दी जताई है लेकिन रोड़वेज कर्मचारियों को उनके सहयोग की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि रोड़वेज का कर्मचारी अपने आप में खुद सक्षम है। अगर सर्व कर्मचारी संघ में इतनी ही हमदर्दी थी तो 5 सितम्बर को कहां थे जब रोड़वेज कर्मचारियों पर जानवरों की तरह बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज हो रहा था तथा कर्मचारियों को दौड़ा-दोड़ा कर पीटा जा रहा था।

ज्वाईन्ट एक्शन कमेटी ने अतिरिक्त मुख्य सचिव को चेतावनी देते हुए कहा है कि हड़ताली कर्मचारियों पर हररोज उत्पीड़न के तहत की जाने वाली कार्यवाही को तुरन्त वापिस ले अन्यथा इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे। जिसकी सारी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *