Home Breaking हरियाणा की सड़कों पर आज चली 2165 बसें, सभी जिलों में जल्दी भर्ती करने के निर्देश

हरियाणा की सड़कों पर आज चली 2165 बसें, सभी जिलों में जल्दी भर्ती करने के निर्देश

0
0Shares

Yuva Haryana
Chandigarh, 26 Oct, 2018

हरियाणा रोडवेज की हड़ताल आज 11वें दिन भी जारी है। आज सर्व कर्मचारी संघ के ऐलान पर सामूहिक अवकाश पर भी काफी संख्या में कर्मचारी रहे। बावजूद इसके परिवहन विभाग ने प्रदेश की सड़कों पर 2165 बसों के सड़कों पर चलने का दावा किया है। वहीं परिवहन विभाग मुख्यालय में भी सामूहिक अवकाश को असफल बताया है।

परिवहन विभाग की तरफ से प्रदेश में 2165 बसें चलने का दावा किया गया है वहीं परिवहन विभाग की तरफ से सभी जिलों में 905 परिचालकों की पार्ट-II पोलिसी के तहत जल्द ही भर्ती करने के आदेश जारी किये गए हैं।

इधर दूसरी तरफ हरियाणा रोड़वेज तालमेल कमेटी के आह्वान पर ‌चक्का जाम लगातार जारी है। यह जानकारी तालमेल के वरिष्ठ सदस्य बलवान सिंह दोदवा, चण्डीगढ़ डिपो के प्रधान चन्द्रभान सोलंकी, राजबीर दलाल, सत्यवान ढुल,प्रदीप बूरा, बलबीर जाखड़, सतपाल यादव व शमशेर सिंह ने संयुक्त रूप से ब्यान जारी करते हुए दी।

उन्होंने बताया कि रोड़वेज में भर्ती के नाम पर भारी लुट खसोट मची हुई है। महाप्रबंधकों ने चारों तरफ अपने गुर्गे छोड़े हुए हैं जो बेरोजगार नवयुवकों को बहला फुसलाकर रोड़वेज में भर्ती करवाने का प्रलोभन दे 25 से 50 हजार रुपए तक ऐंठ रहे हैं।

तालमेल कमेटी के वरिष्ठ सदस्य बलवान सिंह दोदवा ने बताया कि कि ठेकेदारों के माध्यम से अनुभवहीन चालकों को 300 रुपए की दिहाड़ी पर लेकर रोड़वेज की बसें चलवाई जा रही हैं। जिसके कारण हररोज बसें दुर्घटनाग्रस्त हो रही हैं तथा यात्रियों की जान को खतरा बना हुआ है। लेकिन सरकार का इस और कोई ध्यान नहीं है तथा मुकदर्शक बनी हुई है। अगर सरकार इसी तरह मुकदर्शक बनी रही तो ठेकेदार के चालक किसी बड़ी दुर्घटना को अंजाम दे सकते हैं।‌ जिसके कारण जानमाल का नुक़सान हो सकता है। इसके लिए डिपो महाप्रबंधकों की जिम्मेदारी तय होनी चाहिए।

 

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

हरियाणा में कोरोना का लगातार बढ़ रहा ग्राफ, आज सामने आए 355 नये पॉजिटिव केस, देखिये मेडिकल बुलेटिन

Yuva Haryana, Chandigarh ये भी पढ़िय…