रोडवेज बस में पिटाई करने वाली दोनों बहनों को बड़ा झटका, कोर्ट ने तीनों आरोपियों को किया आरोपमुक्त

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष
Deepak Khokhar, Yuva Haryana
Rohtak, 11 Sept, 2018
28 नवंबर, 2014 में सोशल मीडिया पर चलती बस में दो बहनों द्वारा तीन लड़कों के साथ मारपीट मामले में आरोपी युवकों को दोबारा बड़ी राहत मिली है। इस मामले में जहां पहले निचली अदालत ने तीनों को बरी कर दिया था वहीं अब पुनर्विचार याचिका में भी तीनों युवक आरोपमुक्त पाए गए हैं।
यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था जिसमें दोनों बहनों ने रोडवेज की बस में तीन युवकों को बेल्ट से पीटा था. आरोप लगाया गया था कि तीनों युवकों ने युवतियों के साथ छेड़छाड़ की थी।

लड़कों को गिरफ्तार किया गया था पर बाद में उन्हें ज़मानत मिल गई. फिर मामला अदालत पहुंचा और दो साल बाद रोहतक के एसीजेएम हरीश गोयल की अदालत ने तीनों आरोपियों दीपक, मोहित और कुलदीप को सुबूतों की कमी के चलते आरोपमुक्त कर दिया है।
सोनीपत की रहने वाली पूजा और आरती कुमार नाम की ये बहनें उस समय रोहतक के गवर्नमेंट वूमन कॉलेज में पढ़ती थीं और कॉलेज से परीक्षा देकर घर लौटते समय हरियाणा रोडवेज की बस में यह घटना हुई थी।
दोनों बहनों ने युवकों पर आरोप लगाया कि तीनों ने उनसे छेड़छाड़ की जिसके बाद दोनों बहनों ने एक लड़के को बेल्ट से पीटा था. वहीं लड़कों ने इस बात से इनकार किया था. उन्होंने कहा कि विवाद सीट को लेकर हुआ था।
कुछ लोगों ने इस घटना का वीडियो बना लिया था जो कि सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था. ये वीडियो सामने के आने के बाद आरती और पूजा कुमार ‘बहादुर बहन’ के नाम से मशहूर हो गई थीं. इसके बाद उन्हें कई संस्थाओं ने सम्मानित किया था. प्रदेश सरकार ने भी दोनों को पांच लाख रुपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *