रोहतक के अपना घर मामले में बड़ा फैसला, जसवंती देवी को उम्रकैद की सजा

Breaking चर्चा में देश बड़ी ख़बरें हरियाणा

Umang Sheoran, Yuva Haryana
Panchkula, 27 April, 2018

रोहतक के अपना घर मामले में पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट ने मामले में मुख्य आरोपी जसवंती देवी को उम्रकैाद की सजा सुनाई है।

सीबीआई कोर्ट ने आज मुख्य आरोपी जसवंती देवी सहित 9 आरोपियों को सजा सुनाई है। अपना घर बाल संरक्षण गृह की संचालिका जसवंती देवी, जसवंती देवी का दामाद जय भगवान और ड्राइवर सतीश को उम्रकैद की सज़ा सुनाई है।

जबकि जसवंती देवी के भाई जसवंत को 7 साल की सज़ा सुनाई गई है।

वहीं तीन आरोपियों को अंडरगोन और दो आरोपियों को प्रोबेशनरी का फैसला सुनाया गया है।

पंचकूला स्थित हरियाणा की विशेष सीबीआई अदालत के जज जगदीप सिंह ने अपना घर की संचालिका व मुख्य आरोपित जसवंती देवी सहित 9 आरोपितों को दोषी करार दिये जाने के बाद आज सजा सुना दी है।

अपना घर बाल संरक्षण गृह की संचालिका व मुख्य आरोपी जसवंती देवी, जसवंती देवी के भाई जसवंत, बेटी सुषमा उर्फ सिम्मी, दामाद जय भगवान, चचेरी बहन शीला, सहेली रोशनी, ड्राइवर सतीश, कर्मचारी रामप्रकाश सैनी, काऊंसलर वीना को सुनाई गई सज़ा है।
अपना घर एनजीओ भारत विकास संघ द्वारा जसवंती देवी की अध्यक्षता में चलाया जाता था।
इस केस में रोहतक की पूर्व बाल विकास परियोजना अधिकारी अंग्रेज कौर हुड्डा को सबूतों के आभाव में बरी कर दिया गया था।

18 अप्रैल को सीबीआई कोर्ट ने रोहतक के अपना घर बाल संरक्षण गृह की संचालिका व मामले की मुख्य आरोपी जसवंती देवी सहित 9 आरोपियों को दोषी करार दिया था । अपना घर बाल संरक्षण गृह की संचालिका व मामले की मुख्य आरोपी जसवंती देवी, जसवंती देवी का भाई जसवंत, जसवंती देवी की बेटी सुषमा, जसवंती देवी का दामाद जयभगवान, सतीश, शिला,वीना, राम प्रकाश और रोशनी आदि इस में शामिल थे। जबकि एक आरोपी अंग्रेज कौर को किया सीबीआई कोर्ट ने बरी किया था ।

 

 

मामले में अब तक सीबीआई पक्ष के लगभग 121 गवाहों के बयान हुए थे दर्ज, जबकि बचाव पक्ष के 26 गवाहों के बयान दर्ज किये गए थे।

 

बता दें कि कि 8 मई 2012 को अपना घर के नाम से चल रहे अनाथालय में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग की टीम ने छापा मारा था। यह कार्यवाही यहां से लापता हुई तीन लड़कियों के दिल्ली में पकड़े जाने पर हुई थी। छापे के बाद अपना घर की संचालिका जसवंती व अन्य के खिलाफ, ​देह व्यापार, शोषण , मारपीट व मानव तस्करी आदि के मामले ​दर्ज किये गए थे। हरियाणा पुलिस की शुरुआती जांच के बाद मामले की जांच सीबीआई को ​सौंपी गई थी।

 

यह खबर भी पढ़ें >>>FB पर फर्जी अकाउंट बनाकर की अश्लील फोटो अपलोड, करता रहा लगातार ब्लैकमेल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *