सरकार का दावा, भाजपा सरकार बनने के बाद 80 हजार करोड़ रुपये का निवेश हो चुका है हरियाणा में

Breaking Uncategorized चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा
Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 12 July, 2018
उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री विपुल गोयल ने कहा है कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान अब तक राज्य में कुल 80 हजार करोड़ रुपये का निवेश धरातल पर हो चुका है। यह जानकारी उन्होंने आज चंडीगढ़ में एक पत्रकार वार्ता के दौरान दी।
उन्होंने कहाकि राज्य सरकार ने वर्ष 2015 हैपनिंग हरियाणा इंवेस्टमेंट सम्मिट और वर्ष 2016 में प्रवासी हरियाणा दिवस का आयोजन किया। जिसमें विश्वभर के निवेशकों ने भाग लिया। इन दोनों कार्यक्रमों के दौरान अनेक एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। हैपनिंग हरियाणा कार्यक्रम के दौरान व उसके बाद कुल 494 एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। इन कुल एमओयू में से 173 एमओयू धरातल पर उतारे गए यानि वहां या तो परियोजना पहले ही लागू की जा चुकी है या क्रियान्वयनाधीन हैं। इन मामलों में लगभग 14,314 करोड़ रुपये का वास्तविक निवेश होने के साथ 25,923 लोगों के लिए रोजगार के अवसर सृजित हुए हैं।
प्राकृतिक संसाधनों की कमी और बंदरगाहों से राज्य की दूरी होने के बावजूद निर्यात के क्षेत्र में राज्य का प्रदर्शन सराहनीय है। वर्ष 1967-68 के दौरान राज्य का निर्यात 4.5 करोड़ रुपये था जो वर्ष 2016-17 के दौरान बढ़कर यह निर्यात लगभग 82,566.50 करोड़ रुपये पहुंच गया है। 
उन्होंने कहा कि वर्ष 2015 में ईज ऑफ डुइंग बिजनेस रैंकिंग में हरियाणा 14वें स्थान पर था। प्रदेश में व्यापारिक पारिस्थितिक तंत्र में महत्वपूर्ण सुधार लाने के लिए हमने प्रदेश में प्रमुख नियामक सुधार किए, जिससे राज्य वर्ष 2016 में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की रैंकिंग में 6वें स्थान पर पहुंच गया और सरकार के निरंतर प्रयासों के परिणाम से आज हरियाणा शीर्ष राज्यों में शुमार होकर तीसरे स्थान पर पहुंच गया है।
उन्होंने कहा कि राज्य में उद्योग लगाने के लिए स्वीकृतियां लेने की प्रक्रिया को सरल करने के लिए राज्य सरकार ने औद्योगिक संबंधित सेवाओं को एचईपीसी-सिंगल रूफ मैकेनिज्म के साथ जोडक़र यह सुनिश्चित किया कि स्वीकृतियां 45 दिनों में प्रदान की जाएं, इससे पहले स्वीकृतियां प्रदान करने की कोई समय सीमा नहीं थी। उन्होंने बताया कि सिंगल रूफ मैकेनिज्म के अंतर्गत स्वीकृतियों के लिए 35869 आवेदन आए, जिसमें से केवल 57 आवेदन को छोड़ कर बाकी सबको 45 दिनों के अंदर सभी प्रकार की स्वीकृतियां प्रदान कर दी गई ।
इसके अलावा हरियाणा में बिजनेस पार्क बनाने के लिए प्रदेश सरकार जल्द ही एक पॉलिसी लेकर आएगी जिसके तहत फुटवेयर पार्क, मार्बल मार्केट, इलेक्ट्रीकल एपलाइंस मार्केट स्थापित होंगी।
सोनीपत के खरखौदा में फुटवेयर पार्क व मार्बल मार्केट बनाने के लिए जल्द ही पॉलिसी लेकर आएंगे और लगभग 700 एवं 300 एकड़ में दोनों मार्केट बनेंगी, जिससे लाखों लोगों को रोजगार भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि पहले चरण में 1500 एकड़ में बड़े बिजनेस हाऊसिस से इस तरह के बिजनेस पार्क बनाने के लिए बातचीत चल रही है और सभी हितधारकों से बात करके सरकार जल्द ही पॉलिसी लाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *