12 दिन बाद भी नहीं दफनाया गया साहिब का शव, आज 101 लोगों ने दी गिरफ्तारी

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा
Younus Alvi, Yuva Haryana
Nuh, 18 August, 2018
पुन्हाना खंड के नेहदा गांव के 22 वर्षीय साहिब की हत्या का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है, एक तरफ जहां कथित तौर पर पुलिस की गोली से साहिब के मरने के आरोप लग रहे हैं तो वहीं दूसरी और 12 दिन बाद भी साहिब के शव को नहीं दफनाया गया है।
इस मामले में 11 दिनों से धरना चल रहा है, आज नौ महिलाओं समेत 101 लोगों ने गिरफ्तारी भी दी। गिरफ्तारी देने वाले लोगों का आरोप है कि सरकार की अनदेखी के चलते कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।
वहीं अब सरकार की बेरुखी से तंग धरनास्थल पर बैठे लोगों ने 19 अगस्त को दिल्ली के जंतर-मंतर पर एक दिन का धरना देने का फैसला किया है।
धरने पर बैठे लोगों की मांग है कि साहिब का फर्जी एनकाउंटर किया गया है और इस मामले में आरोपी पुलिस कर्मचारियों को तुंरत गिरफ्तार किया जाए।
बता दें कि उतराखंड के देहरादून शहर की एक मोबाईल की दुकान में चोरी करने के आरोपी शब्बीर को गिरफ्तार करने के लिए गत सात अगस्त को पुन्हाना खंड के गांव पटाकपुर में पुलिस ने दबिश देकर आरोपी शब्बीर को पकड लिया था लेकिन ग्रामीणों ने शब्बीर को जबरदस्ती पुलिस के कब्जे से छुडा लिया था।
जिसके बाद दोनों पक्षों में फायरिंग हुई थी जिसमें नहेदा निवासी 22 वर्षीय युवक साहिब की मौत हो गई थी। इस मामले में पुलिस खुद को पाक साफ बता रही है तो ग्रामीण इसे हत्या करार दे रहे हैं। इसी को लेकर कई दिनों से धरना चल रहा है।
साहिब का शव रोहतक पीजीआई में रखा हुआ है। वैसे साहिब की हत्या के आरोप में करीब 35 पुलिस कर्मियों खिलाफ रोजनमचा में उनके नाम की डीडी काट रखी है। जिसको साहिब की हत्या की फाईल से जोड़ रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *