मेवात के सलमान अली ने इंडियन आइडल का खिताब किया अपने नाम, महज 6 साल की उम्र से की थी गायकी की शुरुआत

Breaking कला-संस्कृति चर्चा में देश बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Nuh, 24 Dec, 2018

हरियाणा के मेवात के रहने वाले सलमान अली ने अपने सुरों से करोड़ों भारतीय का दिल जीत लिया है। सलमान अली ने रिएलिटी शो इंडियन आइडल-10 के खिताब पर कब्जा जमा लिया है। मेवात के सलमान ने फाइनल राउंड में हिमाचल प्रदेश में अंकुश को हराकर जीत हासिल की है।

सलमान की इस बड़ी उपलब्धि पर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भी ट्वीट कर उसे बधाई दी है।

शो के फाइनल राउंड में लाइव वोटिंग के आधार पर सलमान को विजेता घोषित किया गया। ईनाम के तौर पर सलमान को एक ट्रॉफी, कार और 25 लाख रुपये की राशि दी गई है। इसके साथ ही सलमान रियलिटी शो सारे-गामा-पा में भी रनअरप रह चुका है। सलमान ने इतना बड़ा मुकाम आज अपने नाम कर साबित कर दिया है कि इंसान चाहे तो अपनी मेहनत और लगन से कुछ भी हासिल कर सकता है।

ऐसा ही कुछ हरियाणा के छोटे से जिले में रहने वाले सलमान ने कर दिखाया है, बता दें कि जिस उम्र में बच्चे खेलते, कूदते हैं उस उम्र में सलमान अपने सपने पूरे करने के लिए कढ़ी मेहनत कर रहा था।  महज 6 साल की उम्र में सलमान ने गायकी की शुरुआत की थी और जागरण व शादी पार्टियों में अपने सुरों से लोगों का मन बहलाता था।

सलमान के पिता कासिम अली ने दिल्ली के एक गायक उस्ताद इकबाल हुसैन से संगीत की तालीम दिलाई थी। भजन और पार्टियों में गाना गाकर वह अपने घर और पढ़ाई का खर्चा चलाता था।

सफर में आगे बढ़ने की शुरुआत तब हुई, जब सलमान एक भजन कार्यक्रम के दौरान मनोज बंसल से मिला। वह सलमान को सारे-गामा-पा लिटिल चैंप्स में ऑडिशन दिलवाने के लिए ले गए थे। गरीबी के कारण सलमान का परिवार उसे पड़ोसियों के घर जाकर टीवी कार्यक्रम में देखते थे। लेकिन एक गरीब परिवार से तालुक रखने वाले सलमान ने इतना बढ़ा मुकाम अपने नाम किया है कि अब हर कोई उससे मिलना चाहता है और बात करना चहता है। पूरे देश में सलमान की बड़ी पहचान बनी है।

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *