रोहतक के कारौर गांव में हो चुकी है 19 हत्याएं, आनंद की हत्या का आरोपी है संपत्त नेहरा

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा
Deepak Khokhar, Yuva Haryana
Rohtak, 04 July, 2018
लारेंस बिश्नोई गैंग के गैंगस्टर संपत नेहरा को बुधवार को स्थानीय कोर्ट में पेश किया गया। इसके बाद कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया। अपराध जांच शाखा द्वितीय ने उसे 2 दिन के रिमांड पर लिया था। कारौर के पूर्व सरपंच के भाई आनंद की हत्या में संपत आरोपी है। संपत ने ही आनंद की हत्या के लिए आरोपियों को हथियार उपलब्ध कराए थे। उसे यमुनानगर से प्रोडक्शन वारंट पर यहां लाया गया था।
गौरतलब है कि कारौर गांव के पूर्व सरपंच के भाई आनंद की 27 अप्रैल को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड में संपत नेहरा का नाम भी आरोपी के तौर पर दर्ज है। इस हत्याकांड में 13 आरोपी जेल जा चुके हैं। एसपी जशनदीप सिंह रंधावा ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ में पुलिस को जानकारी मिली थी कि आनंद की हत्या की साजिश सुनारिया जेल में बंद अनिल छिप्पी ने रची थी।
पुलिस ने छिप्पी को भी प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ की थी। अनिल छिप्पी अपने गुर्गे राजू बसौदी की बदौलत लारेंस बिश्नोई तक पहुंचा था। फिर उसकी मुलाकात संपत नेहरा से हुई थी। इसके बाद अनिल छिप्पी ने जेल के अंदर से ही आनंद की हत्या की साजिश रची। संपत ने ही आनंद की हत्या के लिए हथियार उपलब्ध कराए थे। कारौर में आपसी रंजिश में अब तक 19 लोगों की हत्या हो चुकी है।
हरियाणा की एसटीएफ ने जून माह में संपत नेहरा को हैदराबाद से गिरफ्तार किया था। एसपी ने बताया कि पुलिस रिमांड के दौरान संपत नेहरा ने आनंद हत्याकांड में आरोपियों को हथियार उपलब्ध कराए जाने की बात कबूल कर ली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *