सर्व कर्मचारी संघ का ऐलान, 18 सितंबर से जेल भरो आंदोलन होगा, सामूहिक गिरफ्तारियां देंगे

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा
Deepak Khokhar, Yuva Haryana
Rohtak, 16 Sept, 2018
सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के बैनर तले विभिन्न विभागों के कर्मचारी 18 सितंबर को जेल भरो आंदोलन के तहत सभी जिलों में सामूहिक गिरफ्तारियां देंगे। जेल भरो आंदोलन  के तहत रोडवेज व स्वास्थ्य विभाग के हड़ताली कर्मचारियों पर एस्मा का विरोध किया जाएगा। साथ ही हाईकोर्ट के निर्णय से प्रभावित कर्मचारियों की नौकरी बचाने और विभिन्न विभागों में कार्यरत सभी प्रकार के कच्चे कर्मचारियों को पक्का करवाने की मांग की जाएगी। इसके अलावा चुनावी घोषणा पत्र में किए वादों पर अमल न करने पर सरकार का विरोध किया जाएगा। यह निर्णय रविवार को सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रधान धर्मबीर फौगाट की अध्यक्षता में रोहतक में हुई प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में लिया गया।
प्रदेश महासचिव सुभाष लांबा ने बताया कि आंदोलन के पहले चरण में 18 सितंबर को जेल भरो आंदोलन किया जाएगा। अगली कड़ी में 2 अक्टूबर महात्मा गांधी जयंती पर कर्मचारी सुबह 9 से 11 बजे  सत्याग्रह करेंगे। आंदोलन के अगले चरण में 20 सितंबर से 20 अक्टूबर तक प्रदेश के सभी कैबिनेट मंत्रियों के विधानसभा क्षेत्रों में विरोध किया जाएगा। 23 अक्टूबर को सभी कैबिनेट मंत्रियों के आवासों के धेराव किए जाएंगे। महासचिव लांबा ने बताया कि कार्यकारिणी में सरकार को अल्टीमेटम दिया कि अगर 14 नवंबर तक बातचीत से सभी प्रकार की उत्पीड़न की कार्यवाहियों को वापस लेते हुए मांगों का समाधान नहीं किया तो सभी विभागों के कर्मचारी 15 नवंबर को प्रदेशव्यापी हड़ताल करके काम काज ठप करेंगे।
 
बैठक में ये भी प्रस्ताव पास हुए
बैठक में प्रस्ताव पारित कर स्वास्थ्य विभाग के एमपीएचडब्ल्यू व कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र के गैर शिक्षक कर्मचारियों की हड़ताल व कर्मचारियों की मांगों का पुरजोर समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री से मामले में तुरंत दखल देकर हड़ताल समाप्त करवाने की मांग की। पारित किए गए एक अन्य प्रस्ताव में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आन्दोलन के दबाव में एक्स-ग्रेसिया रोजगार स्कीम को बहाल करने के निर्णय को सरकार का सकारात्मक करार देते हुए इस नीति में आउटसोर्सिंग नीति पार्ट 1 व 2 में लगे सभी प्रकार के अनियमित कर्मचारियों को भी शामिल करने व पुरानी पेंशन स्कीम को भी बहाल करने की मांग की। बैठक में सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा की 3 से 5 अक्टूबर की हड़ताल का भी पुरजोर समर्थन करने का निर्णय लिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *