रॉकी मित्तल के सामने रोने लगी छात्रा, आरोपी प्रिंसिपल मौके पर गिरफ्तार

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष
Deepak Khokhar, Yuva Haryana
Rohtak, 22 Dec, 2018
एक और सुधार कार्यक्रम के प्रोजेक्ट डायरेक्टर रॉकी मित्तल के सामने शनिवार को रोहतक में छात्राओं ने छेड़खानी की घटनाओं से जुड़ी बात खुलकर सामने रखी। कई स्कूली छात्राओं ने खुलकर ईव टीजिंग के बारे में बताया। इसी दौरान दो छात्राओं ने एक साल पहले एक प्राइवेट स्कूल में प्रिंसिपल द्वारा शोषण की बात बताई। यही नहीं एक छात्रा तो अपनी बात कहते-कहते रो पड़ी। इसके बाद आरोपी प्रिंसिपल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 
 
हरियाणा सरकार ने स्कूली छात्राओं को सुरक्षित माहौल उपलब्ध कराने के लिए इस साल जनवरी में एक और सुधार कार्यक्रम शुरू किया था। इस कार्यक्रम का प्रोजेक्ट डायरेक्टर रॉकी मित्तल को बनाया गया था। इससे पहले वे सीएम के पब्लिसिटी एडवाइजर भी रह चुके हैं। एक और सुधार कार्यक्रम के तहत ही मित्तल शनिवार को रोहतक के गर्वनमेंट गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल में पहुंचे थे। इसी दौरान छात्राओं ने अपनी डायरेक्टर के सामने रखी। रॉकी मित्तल ने छेड़छाड़ की घटनाओं के संबध में छठी कक्षा से लेकर 12वीं कक्षा तक की छात्राओं से स्कूल में सीधा संवाद किया। 
 
इसी दौरान एक प्राइवेट स्कूल के प्रिंसिपल की गंदी हरकतों को झेल चुकी पीडि़त लडकी ने यह भी खुलासा किया कि उसने एक नहीं बल्कि अनेक लड़कियों के साथ ऐसा किया है। पीडि़त लडकी के अनुसार एक बार उक्त प्रिंसिपल का रंगे हाथों पकडने का प्रयास लड़कियों ने स्वयं किया था, लेकिन जब प्रिंसिपल का पता चला तो पीडि़त लड़की की जमकर पिटाई भी की।
पीडि़त लडकी ने बताया कि उसने भी उक्त प्रिंसिपल के निजी स्कूल से दसवीं पास की और अब वह राजकीय कन्या उच्च विद्यालय में 11वीं कक्षा में पढ़ रही है। लडकी के अनुसार वह पढ़ाई में कमजोर लड़कियों की पहचान करता है और फिर उन्हें पास करवाने या अच्छे अंक दिलवाने का भरोसा दिलवाता है। वह प्रिंसिपल की करतूतों के बारे में घर वालों को इस लिए नहीं बता पाई कि घर वाले उसकी पढ़ाई बीच में छुड़वा देते।

 
छात्रा की दर्द भरी दास्तां सुनने के उपरांत रॉकी मित्तल ने मौके पर ही पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि उक्त प्रिंसिपल को अभी छात्रा के समक्ष लाया जाए। इस पर पुलिस ने आरोपी को उक्त स्कूल में बुलाया। छात्रा ने मुंह पर कपड़ा ढक कर आरोपी की दूर से ही पहचान कर ली। हालांकि स्कूल प्रिंसिपल ने खुद को बेकसूर बताया। 
 
रॉकी मित्तल ने कहा कि हरियाणा में छात्राओं