एसडीओ को कोर्ट ने सुनाई सात साल की सजा, दो हजार का लगाया जुर्माना

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Hisar, 14 March, 2019

हिसार की जिला कोर्ट ने हरियाणा पुलिस हाउसिंग कॉरपोरेशन के निलंबित एसडीओ को सात साल की सजा सुनाई है वहीं दो हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है। कोर्ट ने दो हजार रुपये का जुर्माना ना भरने पर तीन महीने की अतिरिक्त जेल में रहने की सजा सुनाई है। निलंबित एसडीओ को गत 12 मार्च को ही कोर्ट ने दोषी ठहराया था।

आरोपी नवदीप सिंह हरियाणा पुलिस हाउसिंग कॉरपोरेशन में एसडीओ के पद पर तैनात था. विभाग ने आरोपी को सस्पेंड कर दिया था।

जानकारी के मुताबिक हिसार के एडीएसजे डॉ. पंकज की अदालत ने पत्नी यादपाल की हत्या के आरोप में निलंबित एसडीओ नवदीप सिंह को दोषी करार दिया था। आरोपी की पत्नी का शव 23 अप्रैल 2017 को सरकारी क्वार्टर के कमरे में खिड़की की ग्रिल से लटका हुआ मिला था जिसके बाद सिरसा के रानिया इलाके हरभेज सिंह की शिकायत पर बेटी की हत्या के आरोप में पति और ससुरालजनों के खिलाफ केस दर्ज करवाया था।

अदालत में मृतका के पिता हरभेज सिंह ने बताया कि उसकी बेटी यादपाल की शादी साल 2011 में फतेहाबाद के भूना स्थित शास्त्री नगर के नवदीप सिंह से हुई थी। उस दौरान आरोपी हरियाणा पुलिस हाउसिंग कॉरपोरेशन में बतौर जूनियर इंजीनियर था, जोकि प्रमोशन के बाद बाद में एसडीओ बना था। आरोपी के तीन साल का बेटा भी है।

मृतका के पिता ने कोर्ट में बताया कि शादी के वक्त करीब 45 लाख रुपये खर्च किये थे उसके बावजूद यादपाल के ससुरालवाले खुश नहीं हुए और उसको तंग करना शुरु कर दिया था। उसको कैश की डिमांड करके परेशान किया जाता था। बाद में 2017 में यादपाल का शव लटका हुआ मिला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *