सड़क पर रात बिताने को मजबूर शहीद का परिवार, पुलिसवाले ने सड़क पर फेंका सामान

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Panipat, 24 Oct, 2018

पानीपत में शहीद की पत्नी और बेटी दोनों सड़क पर रात गुजारने को मजबूर है। आरोप है कि एक पुलिसवाले ने उनके घर में घुसकर मारपीट की और उनका सामान बाहर सड़क पर फेंक दिया है। शहीद की पत्नी का आरोप है कि उसकी बेटी अंजलि के पेट पर भी लात मारी जिससे उसके गर्भ में पल रहे तीन माह के बच्चे की भी मौत हो गई है।

जानकारी के मुताबिक कस्बे के निकालना गांव के शहीद की पत्नी कृष्णा ने बताया कि उसके पति फौज में शहीद हो गए थे. उनकी बेटी अंजलि का पति भी फौज में है। अब पांच दिन पहले एक पुलिसकर्मी ने उनके घर में घुसकर मारपीट की और उनका सामान सड़क पर बाहर फेंक दिया है। इस दौरान आरोपी पुलिसकर्मी ने बेटी के पेट पर भी लात मारी जिस वजह से उसके गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत हो गई है।

पीड़िता का आरोप है कि अब वो सड़क पर ही अपना डेरा जमाए हुए हैं और पुलिस के पास इंसाफ के लिए चक्कर काट रही है, लेकिन उन्हे कोई इंसाफ नहीं मिल रहा है। पुलिस के एक अफसर से दूसरे अफसर के पास भेज रहे हैं और कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

इधर अब महिला को इंसाफ दिलवाने के लिए एनजीओ साथ आया है। नारी तू नारायणी संस्थान की अध्यक्ष सविता आर्य ने अब महिला को इंसाफ दिलवाने की बात कही है। हालांकि अभी तक पुलिस इस मामले में कुछ भी कहने से बच रही है।

मीडिया ने उस डॉक्टर से भी बात की जिसने अंजली के पेट में गर्म होने के बारे में बताया उनका यह भी कहना था कि उसको बुरी तरीके से मारा पीटा गया था जिसके कारण उसका बच्चा अंदर ही खत्म हो गया था।

 

आपको बता दें कि यह फौजी परिवार है अंजलि की जिससे शादी हुई है वह हैदराबाद में फौजी की ट्रेनिंग पर गया हुआ है इस परिवार की सुध लेने वाला कोई नहीं है, परिवार तीन-चार दिन से अपने मकान के बाहर बैठकर इंतजार कर रहा है कि कोई आएगा और उसको न्याय दिलाएगा ।

आपको हम यह भी बता दें कि पिछले 4 दिन पहले उनके मकान के पास दबंगता दिखाते हुए उनको मकान से निकाल कर बहुत मारा पीटा गया और उनका सारा सामान मकान से बाहर फेंक दिया गया इस पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है जिसने उनके साथ मारपीट की वह पुलिस में ही कार्यरत है उसकी दबंग नेता के कारण लोग भी सामने नहीं आ रहे हैं।