भले ही थोड़ी देरी हुई है, लेकिन हमें इंसाफ मिला है, पिता के हत्यारे को हो फांसी की सजा- श्रेयशी

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Panchkula, 17 Jan, 2019

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में आज गुरमीत राम रहीम की सजा तैय की जानी है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बाबा को मामले में सजा सुनाई जाएगी।

राम रहीम को दोषी करार मिलने के बाद पत्रकार छत्रपति की बेटी श्रेयशी का दर्द सबके सामने उभरकर सामने आया है।  बेटी श्रेयशी का कहना है कि अब जाकर पिता को इंसाफ मिला है।

श्रेयशी ने गुरमीत राम रहीम के लिए फांसी की सजा मांगी है। उनका कहना है कि हत्यारे, बलात्कारी आरोपी को फांसी की ही सजा देनी चाहिए। छत्रपति की बेटी ने सीबीआई कोर्ट का आभार जताया है और कहा कि भले ही थोड़ी देरी हुई है, लेकिन हमें इंसाफ मिला है।

इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि अब मैें अपनी मां की आंखों में भी संतुष्टि देख सकती हूं। श्रेयशी ने बताया कि मां ने हम छोटे- छोटे बच्चों के साथ बहुत दर्द और पीड़ादायक इतना लम्बा जीवन गुजारा है।

श्रेयशी ने अपने भाई अंशुल छत्रपति के संघर्ष पर भावुक होते हुए कहा कि मेरे भाई अंशुल ने अपना सारा जीवन हमारे पिता को इंसाफ दिलवाने के लिए समर्पित कर दिया। अंशुल एक हीरो है। हमारी लड़ाई ताकत, एक साम्राज्य और एक ऐसे आदमी के खिलाफ थी, जिसने दहशत फैलाई हुई थी।

गुरमीत राम रहीम अब बेनकाब हो चुका है। मेरे पिता ने मिशन के लिए अपनी जिन्दगी दाव पर लगाई थी, लेकिन आज हमारे साथ-साथ कई लोगों को भी इंसाफ मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *