हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष के जल्द बदलाव के संकेत, सैलजा और भुक्कल के बीच कड़ी टक्कर

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 21 June, 2018

हरियाणा में चुनावी माहौल तैयार हो गया है और इसी बीच कांग्रेस आलाकमान ने प्रदेश में बदलाव के संकेत दिये हैं। हालांकि अभी तक खुलकर बात सामने नहीं आई है, लेकिन हरियाणा के नेताओं की दिल्ली दरबार में बढ़ती हाजिरी से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी अब हरकत में आ गए हैं।

जानकारों की माने तो हरियाणा में अगर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का बदलाव होता है तो लिस्ट में दो महिलाओं समेत तीन दलित नेताओं के नाम शामिल हो सकते हैं। इनमें से दो महिलाएं और एक पुरुष शामिल है।

हरियाणा में हाईकमान किसी भी तरह से कोई रिस्क नहीं लेना चाहता है, हरियाणा में चुनावी माहौल को देखते हुए जिस प्रकार से सभी नेता अपने-अपने इलाकों में एक्टिव हो चुके हैं, उसी को देखते हुए हाईकमान भी अब फूंक-फूंककर कदम रख रहा है।

माना जा रहा है कि हरियाणा में अगर प्रदेश अध्यक्ष को बदला जाता है तो राज्यसभा सांसद कुमारी सैलजा और हुड्डा गुट की तरफ से पूर्व शिक्षामंत्री गीता भुक्कल लिस्ट में सबसे आगे हैं। इसके अलावा उदयभान का नाम भी शामिल है।

इससे पहले कांग्रेस प्रदेश अशोक तंवर हरियाणा में कार्यभार संभाले हुए हैं, लेकिन पिछले कुछ दिनों से हुड्डा खेमे के नेता लगातार हाईकमान से मिलकर अध्यक्ष बदलने की मांग कर रहे हैं। हुड्डा गुट के लोग भूपेंद्र सिंह हुड्डा को जिम्मेदारी सौंपने की मांग कर रहे हैं।

राहुल गांधी की रैली के दौरान भी हुड्डा खेमे के नेता राहुल गांधी से स्टेज के पीछे जाकर ही मिल लिए थे. और सभी दलित नेताओं ने हुड्डा को ही अध्यक्ष पद का कार्यभार सौंपने की मांग की थी, लेकिन हरियाणा में पिछले काफी समय से दलित कांग्रेस अध्यक्ष रहे हैं, तो ऐसे में हाईकमान किसी दलित को ही यह चाबी सौंप सकता है।

हरियाणा में कांग्रेस नेताओं की आपसी गुटबाजी जगजाहिर है, वहीं अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के जन्मदिन पर भी पोस्टर वार खूब हुआ। हुड्डा खेमा और तंवर खेमे के लोगों के बीच रोहतक में आपसी खींचतान देखने को मिली।

इसके अलावा प्रदेश में कांग्रेस के नेता लगातार पार्टी की मजबूती के लिए लगे हुए हैं। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा लगातार प्रदेश में जनक्रांति यात्रा के जरिये अपने रथ का पहिया पूरे प्रदेश में घुमा रहे हैं। वो जीटी रोड बेल्ट के बाद अब नूंह, गुरुग्राम में अपना रथ लेकर जाने वाले हैं।

इधर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की साइकिल का पहिया भी नहीं थम रहा है, वो भी लगातार खास जगहों से अपनी साइकिल यात्रा शुरु कर रहे हैं, इससे पहले वो चौटाला के गढ़ में अपनी साइकिल घुमा चुके हैं और अब वो हुड्डा के गढ़ में अपनी साइकिल लेकर पहुंच रहे हैं।

कांग्रेस में अगर दिग्गज नेताओं की बात करें तो रणदीप सुरजेवाला भी लगातार राष्ट्रीय और हरियाणा की राजनीति में सक्रिय हैं। वो लगातार अपनी रैलियों और पार्टी में नेताओं को मिलाने में जुटे हुए हैं। वहीं कर्नाटक में सरकार बनाने में भी रणदीप सुरजेवाला की अहम भूमिका बताई जा रही है।

अहीरवाल क्षेत्र में कैप्टन अजय यादव ने अपनी पार्टी के नेताओं से किनारा कर अब सीधा हाईकमान से नाता जोड़ लिया है। कैप्टन अजय यादव हुड्डा गुट के धुरधर विरोधी रहे हैं, तो वो भी अब सीधे राहुल गांधी से मिलकर अपने मामले सुलझाने में जुटे हुए हैं।

कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी लगातार अपने गृहक्षेत्र में मजबूती से एक्टिव हैं। वो भिवानी के अलावा दादरी-महेंद्रगढ़ में अपनी सक्रियता बढ़ा रही है। किरण चौधरी पूर्व सीएम बंसीलाल परिवार से हैं, तो वो भिवानी क्षेत्र के लोगों के साथ हमेशा जुड़ी रही हैं, वहीं वो बिजली पानी की समस्याओं को लेकर जनता के बीच खड़ी दिखाई देती हैं।

हरियाणा में कुलदीप बिश्नोई भी कांग्रेस में शामिल हो गए थे, कुलदीप बिश्नोई की नजदीकियां सीधी हाइकमान से ही होती है, इसके अलावा वो हुड्डा के साथ हलवा खाते जरुर नजर आए थे, लेकिन हुड्डा की रैलियों और कार्यक्रमों से उनकी दूरी ही रहती है। हालांकि चर्चा थी कि कुलदीप बिश्नोई को कांग्रेस में कोई पद मिल सकता है।

 

हरियाणा में आज ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने संगठन के कुछ प्रेसीडेंट नियुक्त किये हैं, लेकिन बताया जा रहा है कि काफी संख्या में पद खाली पड़े हैं, जिनकों लेकर हाईकमान से भी भरने के आदेश आ चुके हैं, लेकिन आपसी खींचतान के चलते वो लिस्ट पूरी नहीं हो पा रही है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *