सिख संगठनों का फिल्म ‘नानक शाह फकीर’ को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी, विज ने किया विरोध का समर्थन

Breaking बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा

Yuva Haryana

Ambala (11 April 2018)

प्रदेश में फिल्मों को लेकर विरोध अक्सर होता रहता है। पद्मावत के विरोध के बाद फिल्म ‘नानक शाह फकीर’ की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। शुक्रवार को रिलीज होने वाली पंजाबी फिल्म नानक शाह फकीर का सभी सिख संगठन विरोध कर रहे है। देशभर में चल रहे इस विरोध के बाद अंबाला में भी इसका विरोध जारी है।

सिख संगठनों ने फिल्म को अंबाला के सिनेमाघरों में न लगने देने का ऐलान भी कर दिया है। इन्होंने सरकार से किसी भी हाल में फिल्म रिलीज न होने देने की अपील की है। वहीं प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सिख समाज को इस मुद्दे पर समर्थन दिया है।

फिल्म ‘नानक शाह फकीर’ के दृश्यों को लेकर सिख संगठनों में नाराजगी जताई है। इसी रोष को व्यक्त करने के लिए सिख संगठन रेजीमेंट बाजार के गुरुद्वारा श्रीसिंह सभा में इकठ्ठे हुए और फिल्म के विरोध किया। सिखों का कहना है कि फिल्म की वजह से सिखों की भावनाएं आहत हुई है। सिख गुरुओं और उनके परिवारों का किरदार कोई भी व्यक्ति न तो निभा सकता और न ही इसका किसी को अधिकार है।

इस फिल्म में काम करने वाले लोगों के असली जीवन भी इस किरदार पर सही नहीं उतरते है। सिख संगठनों ने सरकार और प्रशासन से आग्रह किया है कि इस फिल्म को किसी भी हाल में सिनेमाघरों में न लगने दिया जाए। यदि ऐसा हुआ तो सिख समाज इसका डटकर विरोध करेगा।

बता दें कि इस मुद्दे पर कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने कहा कि जो भी धार्मिक या ऐतिहासिक मुद्दों को लेकर फिल्मे बनाई जाती हैं, इनमें बहुत ज्यादा अध्ययन करने की जरुरत होती है। इसमें किसी भी प्रकार से छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए क्योंकि ये आस्था का विषय है और लोगों की आस्था के साथ खिलवाड़ नहीं किया जा सकता। सिख समाज द्वारा इस फिल्म को लेकर की गई बैठक पर उन्होंने कहा कि लोगो की भावनाओं का ध्यान रखा जाएगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *