सिंगल मदर के बच्चे को पिता के नाम की जरूरत नहीं- बॉम्बे हाईकोर्ट

चर्चा में देश बड़ी ख़बरें

Yuva Haryana,

Mumbai, (05 April 2018)

हाईकोर्ट ने मुंबई महानगर पालिका को निर्देश दिए है कि टेस्ट ट्यूब प्रक्रिया के जरिए जन्में बच्चों को वह एक नया जन्म प्रमाण पत्र जारी करे, जिसमें उसके जैविक पिता के नाम का उल्लेख नहीं हो।

कोर्ट ने निर्देश दिया कि वह पहले ही जारी किए जा चुके उस जन्म प्रमाण पत्र को वापस मंगा ले जिस पर पिता का नाम है, वह दूसरा प्रमाण पत्र जारी करे जिस पर पिता के नाम का स्थान रिक्त हो।

पीठ नालासोपारा की महिला की याचिका पर सुनवाई कर रही थी, जिसने एक डोनर से प्राप्त स्पर्म की मदद से टेस्ट ट्यूब प्रक्रिया के जरिए अगस्त 2016 में एक बच्चे को जन्म दिया था।

याचिकाकर्ता ने कहा कि वह स्पर्म डोनर के नाम का खुलासा नहीं करना चाहती। उन्होंने अनुरोध किया कि कोर्ट ऐसा जन्म प्रमाण पत्र जारी करने का निर्देश दे जिस पर पिता का नाम नहीं हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *