हरियाणा प्रदेश में सिरसा जिले ने फिर मारी बाजी, लिंगानुपात में चार साल में तीसरी बार बना नंबर वन

Breaking कला-संस्कृति चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Suren Sawant, Yuva Haryana

Sirsa, 18 Jan, 2019

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाई गई बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ योजना का सफल परिणाम देखने को मिल रहा है। इसका उदहारण सिरसा जिला बना है।  सिरसा जिला चार साल में तीसरी बार पूरे हरियाणा में एक नंबर पर आया है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक एक बार फिर लिंगानुपात में वृद्धि कर सिरसा जिला पहले स्थान पर पंहुचा है।

आंकड़ों के मुताबिक सिरसा में दिसम्बर 2018  तक 1000 लड़कों के पीछे 935 लड़कियों ने जन्म लिया है, जो की सरहानीय है। सिरसा जिले ने लिंग अनुपात में हरियाणा व दूसरे राज्यों के सामने एक मिसाल पेश की है।

सिरसा के उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने बताया कि सिरसा जिला एक बार फिर पहले स्थान पर आया है। स्वास्थ्य विभाग और अन्य अधिकारियों ने जागरूक किया तो वहीं छापेमारी से दोषियों को दंडित भी किया है। प्रदेश सरकार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के प्रति जागरूकता लाने के लिए कारगर कदम उठा रही है। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान ने लड़कियों के प्रति समाज की मानसिकता को भी बदला है।

वहीं नागरिक अस्पताल के उप सिविल सर्जन डॉ वीरेश भूषण ने बताया कि हमने लोगों को जागरूक किया, जिसका नतीजा यह आया कि सिरसा जिला पूरे हरियाणा में पहले स्थान पर रहा।

दंत चिकित्सक डॉ सान्वी ने भी खुशी जाहिर करते हुए कहा कि आज लोगों की सोच में बदलाव हो रहा है और लोग लड़कियों को बढ़ावा दे रहे हैं। उनका कहना है कि वो उम्मीद करती है कि सिरसा जिले साथ साथ हमारा प्रदेश और देश भी पहले स्थान में आये।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *