पुलिस एनकाउंटर में मारा गया मोस्ट वांटेड अपराधी, 31 आपराधिक मामले थे दर्ज

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Sirsa, 02 Mar, 2019

सिरसा पुलिस के साथ हुए एनकाउंटर में मोस्ट वांटेड जगसीर उर्फ शीरा की मौत हो गयी। जबकि उसके एक साथी संदेश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। एक अन्य लखविंदर उर्फ लक्खा पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। पुलिस ने आरोपियों के पास से लूटी हुई फॉर्च्यूनर गाड़ी, दो देसी पिस्तौल, 11 कारतूस और एक कार भी बरामद की है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कल रात को जननायक जनता पार्टी के जिला प्रधान अमीर चावला के पुत्र कर्ण चावला से अज्ञात लोग पिस्तौल की नोक पर फॉर्च्यूनर कार छीन कर ले गए थे। सूचना मिलने पर पुलिस ने उनका पीछा किया और डबवाली रोड पर इन बदमाशों को घेर लिया। खुद को पुलिस से घिरा पाकर बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। मुठभेड़ में जगसीर उर्फ शीरा के सिर में गोली लगी। वह गंभीर रूप से घायल हो गया। जबकि लक्खा उर्फ लखविंदर पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। घायल जगसीर को सिरसा के नागरिक अस्पताल लाया गया, जहां से उसे अग्रोहा मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया।

पुलिस ने आरोपियों के साथी संदेश को भी गिरफ्त में ले लिया। इनके पास से दो देसी पिस्तौल और 11 कारतूस बरामद हुए हैं । अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में उपचार के दौरान जगसीर की मौत हो गई। जगसीर पर अलग-अलग थानों में 31 मामले दर्ज थे।

सिरसा पुलिस अधिक्षक अरुण नेहरा के मुताबिक फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है और इनके कनेक्शन तलाश रही है। पुलिस ने दावा किया है कि फरार लखविंदर लक्खा को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मालूम हो कि कल रात को सिरसा पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस के नजदीक अमीर चावला के पुत्र कर्ण चावला की गाड़ी पिस्तौल की नोक पर अज्ञात लोगों ने छीन ली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *