झज्जर में जिला उपायुक्त की अनूठी पहल, स्मार्ट गांव के बाद अब विभाग भी बनेंगे स्मार्ट

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Pardeep Dhankar, Yuva Haryana
Jhajjar, 04 July, 2018

झज्जर जिला प्रशासन ने बेहतर काम करने वाले विभागों को प्रोत्साहित करने के लिए अनूठी पहल शुरू की है। जिला स्तर पर हर विभाग के कार्य का मूल्यांकन होगा और बेहतर काम करने वाले विभाग को स्टार डिपार्टमेंट ऑफ दा मंथ का सम्मान मिलेगा। यह कहना है झज्जर की उपायुक्त सोनल गोयल का। जिला उपायुक्त सोनल गोयल बहादुरगढ़ में गांव मातन, मांडौठी और रोहद में जनता दरबार लगा कर लोगों की समस्यायें सुनने पहंची थी। यहां लोगों ने गांव की गली, सडक, पानी निकासी, जल एवं बिजली आपूर्ति संबंधी समस्यायें उपायुक्त के सामने रखी।

उपायुक्त सोनल ने सभी समस्याओं के तुरंत समाधान के निर्देश मौके पर मौजूद अधिकारियों को दिये। पत्रकारों से बातचीत करते हुये उपायुक्त सोनल गोयल ने बताया कि झज्जर जिले में कई विभाग ऐसे हैं जो अपने-अपने कार्यों को काफी दक्षता के साथ कर रहे हैं। हर महीने बेहतर काम करने वाले विभाग को स्टार डिपार्टमेंट आफ दा मंथ का दर्जा दिया जायेगा। ताकि संबंधित विभाग के कर्मचारियों एवं अधिकारियों का मनोबल बढ़े व साथ ही दूसरे विभाग इससे प्ररेणा लेकर अगले महीने का स्टार बनने के लिए दोगुने उत्साह के साथ काम करें।

उपायुक्त ने बताया कि स्टार डिपार्टमेंट का चुनाव करने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों की एक कमेटी का गठन भी किया गया है। कमेटी हर विभाग के कार्यों के मूल्याकंन के उपरांत हर महीने स्टार डिपार्टमेंट का चयन करेगी। उन्होंने बताया कि डिर्पाटमेंट के चयन में सभी पहलुओं से काम का मूल्याकंन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभी तक बेहतर कार्य करने वाले विभाग के निष्ठावान कर्मचारियों एवं अधिकारियों को साल में चुनिंदा अवसरों पर ही प्रोत्साहन मिलता है।

प्रशासन की इस पहल से स्टार डिपार्टमेंट चयनित करने के साथ-साथ सभी विभागों के काम-काज की समीक्षा भी बेहतर ढंग से हो जाएगी। सरकार की योजनाओं के क्रियान्वयन एवं लक्ष्य प्राप्ति में संबंधित विभाग कहां खड़ा है। इसका पूरा खाका सामने आ जाएगा। बड़ी बात यह है कि जो विभाग पूरी शिद्दत के साथ अपने काम में जुटे हैं उन्हें इससे प्रोत्साहन मिलेगा। उपायुक्त ने बताया कि स्टार डिपार्टमेंट आफ दा मंथ का प्रोत्साहन कार्यक्रम के जरिये विभागों को स्टर रेटिंग देना इसी महीने से शुरू किया जा रहा है।

स्टार डिपार्टमेंट बनने के लिए उपायुक्त ने सभी विभाग प्रमुखों को भी कहा है कि वे अपने-अपने विभाग के कार्यों को और अधिक प्रभावी ढंग से लागू करें ताकि मूल्याकंन के समय स्टार विभाग की श्रेणी में शामिल हो सकें। हम आपको बता दें कि हरियाणा के कृषी मंत्री आमप्रकाश धनखड़ की पहल के चलते गावों को स्टर रेटिंग पहले ही दी जा चुकी है। अब जिला प्रशासन की और से विभिन्न विभागों को स्टार डिपार्टमेंट आफ दा मंथ का दर्जा देने की पहल बेहद सराहनीय है। लेकिन विभाग इसे कितनी संजीदगी के साथ लेते हैं यह देखने वाली बात होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *