फौज में जाने का सपना हुआ साकार, 21 बार आर्मी भर्ती की रेस पास की

चर्चा में बड़ी ख़बरें शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana, Jind

जींद उचाना के बड़ौदा गांव के रहने वाले सोहन ने 21 बार आर्मी की भर्ती क्लीयर की, लेकिन हर बार सफलता किसी कारण उसका साथ छोड़ जाती, पर कहते हैं ना लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

अब सोहन का आर्मी में जाने का सपना पूरा हुआ है, उसने टीए (टेरिटोरियल आर्मी) की भर्ती क्लीयर कर ली है। सोमवार से सोहन की जालंधर में ट्रेनिग शुरू हो रही है।

सोहन के पिता रमेश कुमार कहते हैं सोहन को बचपन से ही आर्मी में जाने का सपना था। देश सेवा के लिए उसने 12वीं के बाद 2014 में आर्मी की भर्ती की तैयारी शुरू की और जनवरी-2015 में हिसार में आर्मी भर्ती में सोहना ने एक्सीलेंट में रेस क्लीयर की लेकिन उसमें वह पेपर पास नहीं कर पाया था।

उसके बाद सोहन ने लगातार 20 बार आर्मी की जीडी और टीए (टेरिटोरियल आर्मी) की रेस तो क्लीयर की लेकिन कभी मेडिकल में प्वाइंट बन जाता तो कभी पेपर में रह जाने के कारण फाइनल लिस्ट में नाम नहीं आ पाता। पांच साल की मेहनत के बाद 2019 में आखिर सोहना को फौज की नौकरी मिल ही गई।

उचाना के राजीव गांधी कॉलेज के मैदान में प्रेक्टिस करने वाला सोहन 4 मिनट, 39 सेकंड में 1600 मीटर की रेस लगा देता है।

21 बार आर्मी भर्ती की रेस क्लीयर करने वाले सोहना उन युवाओं के लिए प्रेरणा बने हैं, जो चार-पांच भर्तियों में जाने के बाद ही हार मान लेते हैं और तैयारी छोड़ देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *