गांव के जमींदार का कर्जा चुकाने के लिए बेटे ने कर दी पिता की हत्या

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Panipat, 22 July 2019

पानीपत के समालखा क्षेत्र से बेहद ही चौकाने वाला मामला सामने आया है। घर में बेटा पैदा हो तो माता- पिता को लगता है कि हमें बुढ़ापे का सहारा मिल गया। लेकिन इस बेटे की काली करतूत आप सुनगे तो आपको भी जानकर बेहद हैरानी होगी। यहां समालखा के गांव नारायण में जिस पिता ने उंगुली पढ़कर चलना सिखाया उसी बेटे ने उसकी हत्या कर दी।

बेटे ने पहले 53 साल के बीमार पिता का आठ लाख रुपये का बीमा करवाया और फिर उन्हें मौत के घाट उतार दिया। गांव के ही जमींदार सतबीर के डेढ़ लाख रुपये का कर्ज चुकाने के लिए आरोपित बेटे ने अपने पिता को मार दिया। इस मामले का खुलासा हुआ तो जिसने भी सुना उसके होश उड़ गए। जानकारी के अनुसार आरोपित बेटे के इस घिनौने अपराध में वो अकेला नहीं था बल्कि उसके साथ दो अन्य लोग भी शामिल थे।

यह घटना 16 जुलाई की है। आरोपित बेटे की मां ने केला देवी ने बताया कि उसका बेटा चांदी पड़ोसी युवक आनंद के साथ पेंट का काम करता है। वह  10 जुलाई को चंडीगढ़ में अपनी बहन के घर गई थी। इसी बीच चांदी ने दोस्त आनंद और जमींदार सतबीर के साथ मिलकर उसके पति महेंद्र की हत्या कर दी। हत्या करने के बाद बेटे ने लोगों को बताया कि दमे की बीमारी के कारण पिता की मौत हुई है।

इसके बाद शव का अंतिम संस्कार कर दिया। खुलासा हुआ तो मां ने पुलिस को बेटे समेत तीनों के खिलाफ हत्या की शिकायत दी। पुलिस ने आरोपितों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उन्होंने सारा राज उगल दिया। पुलिस ने शुक्रवार को तीनों आरोपितों को तलब किया, लेकिन चांदी पिता की अस्थियां लेकर हरिद्वार गया हुआ था। सतबीर और आनंद फाइनेंस पर निकलवाई बुलेट पर ही थाने पहुंचे। प्राथमिक पूछताछ में ही दोनों ने अपना गुनाह कुबूल कर लिया। पुलिस ने शुक्रवार देर रात हरिद्वार से वापस आते ही चांदी को भी हिरासत में ले लिया। पूछताछ में उसने भी वारदात को कुबूल कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *