सोनीपत में हुई अनोखी शादी, ससुर ने दामाद को दहेज में दिया यह तोहफा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Sonipat, 24 Feb,2019

गोहाना के गांव जागसी निवासी रोहताश ने समाज में पर्यावरण बचाओ, शुद्ध खानपान व स्वस्थ रहने की अनूठी परंपरा शुरू की है। उन्होने दोनों बेटियों की शादी में दामादों को दहेज में साइकिलें दी है ताकि दोनों दामाद साइकिल चलाकर स्वस्थ और फिट रह सके।

यही नहीं इस शादी में बारात में जो बाराती शामिल हुए, उन्हें मावा की मिठाई की जगह बल्कि गुड़ व शक्कर खिलाई गई। साथ ही फेरों पर पर्यावरण बचाओ के बेटियों व दामादों से वचन भी दिलवाए। रोहताश ने बेटी मीना की शादी निवासी रोहतक के लाड़ौत निवासी राजेश और पूनम की शादी जींद के भम्भेवा निवासी रोहित के साथ की।

रोहताश ने मुताबिक उसने 1990 में 10वीं की पढ़ाई कर ली थी, लेकिन पारिवार की परस्थितियां सही न होने के कारण वह आगे की पढ़ाई नहीं कर सका। एक दिन जब उसकी बड़ी बेटी मीना जो चौथी कक्षा में पढ़ती थी, उसने पिता से एक सवाल पूछ लिया। जब रोहताश को सवाल का जवाब नहीं आया तो उसके मन को ठेस लगी, उसने महसूस हुआ कि बेटी के सवाल का जवाब वह नहीं देगा, तो कौन देगा।

इसके बाद 2018 में उसने 12वीं की। इस साल वह बीए प्रथम वर्ष की परीक्षा देगा। साथ ही रोहताश अपने सवा तीन एकड़ जमीन पर ऑर्गेनिक खेती करता है, जिससे उसे मुनाफा हुआ। ऑर्गेनिक खेती के माध्यम से उसकी परिवारिक स्थिति में भी सुधार हुआ है।

रोहताश दहेज में कार और बाइक देने के खिलाफ है। उसके मुताबिक यह बुराई समाज को अलग-थलग कर रही है। वहीं दूसरी तरफ कार व बाइक से प्रदूषण की समस्या बढ़ रही है। इसलिए बेटियों को दहेज में साइकिल देनी चाहिए। साइकिल से न तो प्रदूषण होता और न ही आर्थिक बोझ पड़ता है और साइकिल चलाकर व्यक्ति फीट भी रहता है। उसने प्रशासन से मांग की है कि जिले में शादी के खर्च की सीमा तय होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *