हरियाणा रोडवेज कर्मचारियों को शिष्टाचार का पढ़ाएंगे पाठ, 6 महीने का लेना होगा प्रशिक्षण- पंवार

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 30 July, 2018
हरियाणा सरकार ने परिवहन विभाग के चालकों व परिचालकों को यात्रियों के साथ शिष्टाचार से पेश आने व सही व्यवहार से बातचीत करने के लिए छ: महीने का प्रशिक्षण दिलवाने का निर्णय लिया है।
यह जानकारी परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने आज यहां प्रदेश सरकार की चार वर्षों की उपलब्यिों की जानकारी देने के लिए बुलाए गए एक पत्रकार सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए दी।
पंवार ने बताया कि यह प्रशिक्षण भारतीय तेल निगम, पानीपत के सहयोग से पानीपत रिफाइनरी परिसर, बौहली में करवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि आरंभ में 5,000 चालक व 5,000 परिचालक को प्रशिक्षण दिया जाएगा और यह टर्न के आधार पर डिपोवार होगा।

एक प्रश्न के उत्तर में परिवहन मंत्री ने बताया कि वर्ष 2018-19 के दौरान 650 नई बसें परिवहन बेड़े में शामिल की जाएंगी जबकि गत वर्ष 600 नई बसें बेड़े में शामिल की गई थी जबकि पिछली सरकार के कार्यकाल में एक भी नई बस बेड़े में शामिल नहीं की गई थी। उन्होंने बताया कि इन बसों में 150 मिनी बसें, 150 वातानुकुलित बसें व 350 साधारण बसें शामिल हैं। इसके अलावा 30 नई वोल्वो बसें भी विभाग द्वारा खरीदी जाएंगी। राज्य सरकार द्वारा आम जनता को पर्याप्त तथा किफायती परिवहन सुविधाएं उपलब्ध करवाने हेतु स्टेज कैरिज स्कीम, 2016 के तहत 902 निजी संचालकों को 273 मार्गों पर परिचालन हेतु मंजिली परमिट प्रदान किए गए हैं।
परिवहन मंत्री के रूप में वर्तमान सरकार की एक बड़ी उपलब्धि के संबंध में पूछे जाने पर श्री पंवार ने कहा कि हर 20 किलोमीटर की परिधि में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में एक कन्या महाविद्यालय खोलने के लिए गए निर्णय के फलस्वरूप परिवहन विभाग ने शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों की हर उच्चतर शिक्षण संस्थान तक छात्राओं के लिए नि:शुल्क बस सुविधा उपलब्ध करवाई है। इसके अलावा, छात्राओं के लिए मुफ्त बस पास की सीमा 60 किलोमीटर से बढ़ाकर 150 किलोमीटर की गई है। छात्राओं के लिए 150 मार्गों पर विषेष बस सेवा शुरू की गई है और यही वायदे भापजा के चुनावी घोषणा पत्र में शामिल थे, जो पूरे किए गए ।
एक अन्य प्रश्न के उत्तर में पंवार ने बताया कि हरियाणा परिवहन के इतिहास में पहली बार व्यापक स्तर पर 900 कर्मचारियों को परिचालक से उप-निरीक्षक, उप-निरीक्षक से निरीक्षक, यार्ड मास्टर से हैड यार्ड मास्टर व अन्य श्रेणियों में पदोन्नति की गई। विभाग में वर्ष 2003 से 2008 के बीच मे नियुक्त किए गए लगभग 8200 चालक-परिचालकों की सेवाएं नियमित की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *