पराली ना जलाने वाले किसानों को यह सरपंच करवाएगा हवाई सफर, किसानों से कर रहा है अपील

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Charkhi Dadri, 29 Oct, 2018

हरियाणा में किसानों को पराली के जलाने पर रोकने के लिए जगह-जगह पर अधिकारी नियुक्त किये हैं वहीं सरकार की तरफ से पराली ना जलाने को लेकर जागरुक किया जा रहा है। इसी बीच हरियाणा के एक ऐसे सरपंच सामने आए हैं जो कि किसानों को पराली ना जलाने पर बड़ा तोहफा देने जा रहे हैं।

दरअसल चरखी दादरी के गांव घिकाड़ा के सरपंच सोमेश ने किसानों के लिए एक अनोखी स्कीम लेकर आए हैं। सरपंच सोमेश ने उन किसानों को हवाई यात्रा करवाने की घोषणा की है जो किसान पराली नहीं जलाएंगे। किसानों को सरपंच सोमेश अमृतसर जहाज में लेकर जाएंगे।

जानकारी के मुताबिक चरखी दादरी इलाके में करीब हजार हैक्टेयर जमीन पर धान की फसल उगाई जाती है. जिसकी पराली जलाने पर वहां पर प्रदूषण का खतरा बढ़ता है।

सरपंच सोमेश बताते हैं कि किसानों को जागरुक करने का भी प्रयास किया जा रहा है वहीं जो किसान पराली नहीं जलाएंगे उन किसानों को वो अमृतसर हवाई जहाज में घूमाकर लाएंगे और चौधरी चरण सिंह विश्वविधालय से कृषि उपकरण भी अपने निजी खर्च से दिलवाएंगे।

बताया जाता है कि सरपंच सोमेश ने अपने गांव को जगमग योजना से जुड़वाया जिसके बाद ग्रामीणों ने भी करीब पांच करोड़ रुपये बिजली निगम को बकाया बिलों के दिये जिसके बाद अब गांव में बिजली की समस्या नहीं रहती।

इसके अलावा गांव में आवारा पशुओं और बंदरों की समस्या से भी सरपंच ने निजात दिलाई है। सरपंच ने राजस्थान के तारानगर की गौशाला में आवारा पशुओं को अपने निजी खर्च पर भिजवाया ।

सरपंच सोमेश ने बताया कि स्वच्छता के लिए उन्होने गांव में अभियान शुरु किया था जिसमें सहयोग करने वाले 50 महिलाओं, बुजुर्गों और युवाओं को दिल्ली के मुगल गार्डन, राष्ट्रपति भवन, संसद भवन, अक्षरधाम और इंडिया गेट का भ्रमण कराया। इसी प्रकार साल 2018 में स्वच्छता को लेकर गांव के 250 ग्रामीणों को अग्रोहा धाम और भिवानी के गुप्तचर विभाग कार्यालय का भ्रमण करवाया।

इसके अलावा सरपंच सोमेश ने गांव में अवैध कब्जों को हटवाने का भी विशेष अभियान छेड़ा है, उन्होने बताया कि जो भी अवैध कब्जों को हटवाने में सहायता करेगा उनको मुंबई का भ्रमण करवाया जाएगा वहीं अभिनेताओं से भी मुलाकात करवाकर लाएंगे।

इसी प्रकार से सरपंच ने गांव में अलग -अलग विकास कार्य करवाए हैं। सरंपच सोमेश बताते हैं कि उन्होने गांव में सभी प्रकार की आपसी खींचतान और राजनीति से ऊपर उठकर गांव के विकास के लिए काम किये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *