मुख्यमंत्री मनोहर लाल की घोषणा ’शौर्य पुरस्कार’ के माध्यम से प्रति वर्ष 71 विद्यार्थीयों को 11,000 रुपये की मिलेगी पुरस्कार राशि

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

New Delhi, 17 Jan,2019

हरियाणा सरकार ने नई दिल्ली में राष्ट्रीय पुलिस स्मारक में पहली बार राज्य स्तरीय समारोह का आयोजन किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राष्ट्रीय पुलिस स्मारक में हरियाणा पुलिस व अन्य शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

शहीदों को श्रद्धांजलि देने के उपरांत मुख्यमंत्री ने वहां उपस्थित राज्य पुलिसबल के शहीदों के परिजनों को संबोधित किया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राज्य पुलिस बल के 71 शहीदों के नाम पर ’शौर्य पुरस्कार’ शुरू करने और राज्य में पुलिस स्मारक बनाने की घोषणा की।

उन्होने कहा कि राज्य के प्रत्येक शहीद पुलिसकर्मी की स्मृति में उस ब्लाक में एक विद्यार्थी को वीरता के लिए प्रति वर्ष 11,000 रुपये की पुरस्कार राशि दी जाएगी, जिस ब्लाक में वह स्कूल स्थित है, जहां पर शहीद पुलिसकर्मी ने शिक्षा ग्रहण की थी।

सन् 1966 में हरियाणा के गठन से लेकर अबतक विभिन्न हमलों और मुठभेड़ों में शहीद होने वाले हरियाणा के सभी 71 पुलिसकर्मियों के परिवारों को सम्मानित करने के लिए हरियाणा सरकार द्वारा नई दिल्ली में राष्ट्रीय पुलिस स्मारक में पहली बार राज्य स्तरीय समारोह का आयोजन किया गया।

 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा पुलिस के वीर शहीदों के वीरतापूर्ण कार्यों का उल्लेख करने वाली ’हरियाणा पुलिस के शहीद’ नामक पुस्तक का विमोचन भी किया।

इस अवसर पर 116 पुलिस कर्मियों के साथ एक गार्ड ऑफ ऑनर का भी आयोजन किया गया, जिसका नेतृत्व एएसपी अजीत सिंह शेखावत ने किया।

पुलिस महानिदेशक बी.एस. संधू के अनुरोध पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश में राज्य स्तरीय पुलिस स्मारक बनाने की भी घोषणा की ताकि पुलिस बल के शहीदों की वीरता और साहस को जान कर युवा प्रेरणा ले सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *