Home Breaking सौतेली बेटी को अपना नहीं सका, तो नहर में डूबो दिया

सौतेली बेटी को अपना नहीं सका, तो नहर में डूबो दिया

0
0Shares

Dalbir Rathi, Yuva Haryana

Gannaur, 12 Oct, 2018

सौतेली बेटी को अपना नहीं सका, तो एक कलयुगी पिता ने तीन वर्षीय मासूम बेटी को नहर में डूबा दिया। अपनी हरकत पर पर्दा डालने के लिए पिता ने पुलिस को अपनी बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवा दी।

लेकिन कार्रवाई के दौरान पुलिस को बाप पर शक हुआ, तो उसे पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया। पूछताछ के दौरान बाप ने कबूल किया कि उसकी सौतेली होने की वजह से उसने बच्ची को पानीपत के बिंझोल गांव के निकट नहर में डूबा दिया। इस पर पुलिस ने आरोपी पिता के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी पिता को अदालत में पेश कर उसे रिमांड पर लिया है।

फिलहाल पुलिस बच्ची को ढूंढने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। प्राप्त जानकारी अनुसार बिहार के खाड़ी टोला, जिला किशनगंज निवासी मुसर्फ अपनी पत्नी व एक 7 वर्षीय पुत्र व 3 वर्षीय सौतेली बेटी फरीदा के साथ बडी गांव में किराए पर रहता है। मुसर्फ व उसकी पत्नी बड़ी फैक्ट्री में नौकरी करते हैं।

मुसर्फ की पत्नी सेफुनिसा ने बताया कि उसकी शादी वर्ष 2009 में मुसर्फ के साथ हुई थी उन्हें एक बेटा हुआ। लेकिन कुछ साल बाद ही उन दोनों के बीच झगड़ा रहने लगा। जिस वजह से उसने मुसर्फ का घर छोड़ दिया उस पर तलाक का मामला दर्ज करवा दिया।

इस दौरान उसने रशिद नाम के युवक के साथ शादी कर ली और वह गर्भवती हो गई। लेकिन शादी के चार माह बाद ही वह रशिद से भी अलग हो गई। जिसके बाद उसने अपने मायके एक बेटी फरीदा को जन्म दिया। इस बीच मुसर्फ उसके घर आया और समझौता कर वापिस उसे अपने साथ लौटने के लिए कहने लगा और उसकी बेटी को भी अपनाने के लिए सहमत हो गया।

जिस पर वह मुसर्फ के साथ वापिस उसके साथ बड़ी गांव में आकर रहने लगी। उसने बताया कि फिलहाल वह और उसका पति बड़ी में किराए पर रहकर फैक्ट्री में नौकरी करते हैं। सेफुनिसा ने बताया कि मुसर्फ उस पर फरीदा को वापिस अपने सगे बाप के पास भेजने के लिए दबाव भी बनाता था।

जिस दिन उसकी बेटी फरीदा गायब हुई उस दिन उसका पति घर पर ही था और वो ड्यूटी पर गई हुई थी। 10 अक्टूबर को मुसर्फ ने राजलू गढ़ी पुलिस चौकी में फरीदा के गुम होने की शिकायत दी थी जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया था। कार्रवाई के दौरान पुलिस ने शक के आधार पर पूछताछ के लिए मुसर्फ को अपनी हिरासत में ले लिया।

पूछताछ के दौरान मुसर्फ ने पुलिस के सामने कबूल किया है कि फरीदा उसकी सौतेली बेटी थी, जिसे वह अपना नहीं सका। जिस वजह से उसने अपनी सौतेली बेटी को पानीपत के बिंझोल गांव के निकट नहर में डूबा दिया। इस पर पुलिस ने आरोपित मुसर्फ को गिरफ्तार कर अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया है। फिलहाल पुलिस फरीदा का शव ढूंढने के प्रयास कर रही है।

 

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

हरियाणा में कोरोना का लगातार बढ़ रहा ग्राफ, आज सामने आए 355 नये पॉजिटिव केस, देखिये मेडिकल बुलेटिन

Yuva Haryana, Chandigarh ये भी पढ़िय…