नियमों की अवहेलना करने वाले स्कूलों के खिलाफ अब होगी सख्त कारवाई

बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Haryana, 07-04-2018

अब  जो भी स्कूल प्रबंधक  राज्य सरकार के  अादेशों  की अवहेलना करेगा, उस स्कूल के खिलाफ  नियमानुसार सख्त कारवाई की जाएगी। उपायुक्त डॉ. एसएस फुलिया  ने ऐसे स्कूलों के खिलाफ सख्त कारवाई के आदेश दिेए हैं।  डॉ. एसएस फुलिया ने कहा कि निजी व सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल बच्चों और अभिभावकों को किसी एक दुकान से किताबें, वर्दी, कापियां खरीदने के लिए मजबूर कर रहे हैं। इतना ही नहीं निजी स्कूल प्रबंधक एनसीइआरटी की बजाए निजी प्रकाशकों की पुस्तकों को खरीदने के लिए कह रहे हैं। इस प्रकार की गतिविधियों को अपनाकर निजी स्कूल हरियाणा स्कूल शिक्षा कोड की अवहेलना कर रहे हैं।

इस तरह की गतिविधियों वाले स्कूलों को बख्शा नहीं जाएगा, ऐसे स्कूलों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उपायुक्त ने शुक्रवार को सभी सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों और निजी स्कूलों के ¨प्रिंसीपल को जारी आदेशों में कहा है कि प्रशासन की संज्ञान में आया है कि बहुत से निजी स्कूल निर्धारित दुकानदारों से पुस्तकें, नोट बुक, वर्दियां खरीदने के साथ-साथ निजी प्रकाशकों की किताबें लेने के लिए मजबूर कर रहे हैं। यह भी तथ्य सामने आए हैं कि कुछ स्कूलों ने प्रांगण में ही वर्दियां, पुस्तकें और अन्य सामान बेचने के लिए सेल काउंटर स्थापित किए हुए हैं।

उन्होंने कहा कि जो स्कूल इस प्रकार की प्रणाली को आधार मानकर काम कर रहा है, वह स्कूल हरियाणा स्कूल शिक्षा कोड की सरेआम अवहेलना कर रहा है। उन्होंने कहा कि इन तमाम पहलुओं को देखते हुए आदेश जारी किए हैं कि कोई भी स्कूल बच्चों और अभिभावकों को किसी एक दुकान से वर्दी, किताबें, नोट बुक और स्टेशनरी का अन्य सामान खरीदने के लिए मजबूर नहीं करेगा।

सभी अभिभावकों को अपनी इच्छानुसार दुकान से किताबें, वर्दी खरीदने के लिए खुली छूट देगा और किसी को एक दुकान के लिए बाध्य नहीं करेगा। इसके अलावा केवल एनसीइआरटी की किताबों को खरीदने के लिए ही प्राथमिकता दी जाएगी। उपायुक्त ने कहा कि जो भी स्कूल प्रबंधक राज्य सरकार के आदेशों की अवहेलना करेगा, उस स्कूल के खिलाफ नियमानुसार सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *