पूर्व सीएम स्व. वीरेंद्र सिंह के पोते राव अर्जुन सिंह पहुंचे लघु सचिवालय, किसानों की मांगों को लेकर सौंपा ज्ञापन

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Ajay Atri, Yuva Haryana

Rewari, 8 Oct, 2018

बाजरे की सरकारी खरीद को लेकर जब से सरकार ने 1950 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीद करने का ऐलान किया है, तब से किसानों के चेहरों पर भारी खुशी दिखाई पड़ रही है और अपनी पैदावार लेकर किसान मंडियों में पहुंच रहे हैं, लेकिन पिछले दिनों हुई भारी बारिश के कारण बर्बाद हुई फसल के कारण भारी संख्या में किसान मायूस भी है।

इसी को लेकर युवा कांग्रेसी नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री राव वीरेंद्र सिंह के पोते राव अर्जुन सिंह ने आज रेवाड़ी में जिला सचिवालय पहुंच न केवल सरकार के खिलाफ जोरदार विरोध प्रदर्शन किया, बल्कि बर्बाद हुई बाजरे की फसल की गिरदावरी कराकर किसानों को मुआवजा देने की मांग को लेकर एसडीएम को ज्ञापन भी सौंपा।

इस मौके पर राव अर्जुन सिंह ने कहा कि पिछले दिनों बारिश का कहर ऐसा टूटा कि करीब 50 से 75 फीसदी किसानों की फसल बर्बाद हो गई, जिससे किसानों को भारी नुकसान हुआ है। खट्टर सरकार को चाहिए कि किसानों के नुकसान का तुरंत प्रभाव से सर्वे कराकर मुआवजा दिया जाए, ताकि उनकी भरपाई हो सके।

साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार किसानों के साथ मजाक कर रही है। यूरिया का वजन 50 किलोग्राम से घटाकर 45 किलोग्राम कर दिया गया है और उसके मूल्य में भी वृद्धि की गई है। वहीं सरसों के बीज के मामले में भी कुछ ऐसा ही हाल है। पैट्रोल व डीजल के दामों में भी बढ़ोतरी से आमजन के अलावा किसानों में भी त्राहि-त्राहि मची हुई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *