बोर्ड परीक्षा में नकल करता पकड़ा गया छात्र, 7 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा की गई रद्द

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Rohtak, 12 March,2019

हरियाणा बोर्ड की परीक्षा में नकल थमने का नाम नहीं ले रही है। नकल रोकने के लिए भिवानी बोर्ड के चेयरमैन डा. जगबीर सिंह लगातार छापेमारी कर रहे हैं। गत दिवस जहां रोहतक में 7 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा रद्द की गई थी, वहीं मंगलवार को महम के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में भी उन्होंने छापेमारी करते हुए एक मुन्नाभाई को ब्लूटूथ के साथ पकड़ा और पुलिस के हवाले कर दिया।

हरियाणा बोर्ड की मंगलवार को फिजिक्स व इकोनोमिक्स की परीक्षा के दौरान नकल का खेल देखने को मिला। हर परीक्षा केंद्र पर नकल डालने वालों को देखा गया। बाहरी युवकों का कब्जा परीक्षा केंद्रों पर रहा। परीक्षा केंद्रों में बाहर से ही नहीं, अंदर भी विद्यार्थीयों ने जमकर नकल की।

महम के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में तो एक विद्यार्थी ने हद कर दी। परीक्षा के दौरान वह ब्लूटूथ लेकर बैठा हुआ था, जिसे भिवानी बोर्ड के चेयरमैन की फ्लाइंग ने पकड़ा। उन्होंने विद्यार्थी से ब्लूटूथ लिया और पुलिस में शिकायत दर्ज करवा दी। इसी प्रकार एक यूएमसी भी फ्लाइंग ने बनाई। फिजिक्स व इकोनोमिक्स की परीक्षा में कुल 6 यूएमसी बनाई गई, जबकि परीक्षा केंद्रों की दीवारों, खिड़कियों व छतों पर बाहरी युवकों का कब्जा देखने को मिला।

महम के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में फिजिक्स की परीक्षा में ब्लूटूथ के साथ पकड़ा गया छात्र कुरुक्षेत्र का रहने वाला है। वहां एक प्राईवेट इंस्टीट्यूट में छात्र पढ़ता है और परीक्षा देने के लिए आया था। उसकी जेब में ब्लूटूथ था, जो किसी फोन से कनैक्ट था। छात्र ब्लूटूथ के माध्यम से परीक्षा दे रहा था, जिसे बोर्ड चेयरमैन की फ्लाइंग ने पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया।

भिवानी बोर्ड के चेयरमैन डा. जगबीर सिंह  ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि बोर्ड परीक्षा में हर विद्यार्थी अपने स्कूल की वर्दी पहनकर आए। जो विद्यार्थी स्कूल की वर्दी पहनकर नहीं आएगा, परीक्षा केंद्र के सुपरीडेंट को हक है कि उसे परीक्षा में बैठने न दे। क्योंकि परीक्षा के दौरान बच्चों का पता ही नहीं चलता कि वह स्कूल का छात्र है भी या नहीं।

बोर्ड परीक्षा के दौरान जिस भी परीक्षा केंद्र पर बाहरी युवकों का कब्जा है या अत्यधिक नकल हो रही है, उन परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा रद्द की जा रही है। बोर्ड चेयरमैन स्वयं फ्लाइंग में घूम रहे हैं और विद्यार्थियों को नकल के साथ पकड़ रहे हैं। आगे भी जिस परीक्षा केंद्र पर नकल होते हुए पकड़ी गई तो वहां भी परीक्षा रद्द करने जैसा कठोर निर्णय लिया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *