महिला टीचर को घर में घुसकर मारी थी गोली, अब छात्र को ठहराया दोषी

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana, Yamunanagar

यमुनानगर के स्वामी विवेकानंद पब्लिक स्कूल की प्रिंसीपल रितू छाबड़ा की हत्या के मामले में जिला कोर्ट ने फैसला सुना दिया है। इस मामले में एडीजे पायल बंसल की कोर्ट ने आरोपी छात्र शिवांश को दोषी करार दिया है। वहीं आरोपी शिवांश के पिता रणजीत को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया है। अब 28 फरवरी को दोषी छात्र शिवांश को सजा सुनाई जाएगी।

यमुनानगर की थापर कॉलोनी में स्थित स्कूल में 20 जनवरी 2018 को प्रिंसिपल अपने रूम में थीं। इसी दौरान वहां पर हमीदा निवासी शिवांश आया। वह 12वीं क्लास का छात्र था। उसने प्रिंसिपल पर कई गोलियां चलाई। इसमें प्रिंसिपल की मौत हो गई थी। शिवांश ने अपने पिता की लाइसेंसी रिवाल्वर से वारदात को अंजाम दिया था। इस मामले में पुलिस ने उसके पिता को भी आर्म्स एक्ट में आरोपी बनाया है। तब सामने आया था कि छात्र को प्रिंसिपल आवारागर्दी करने पर डांटती थी। यह बात उसे अच्छी नहीं लगती थी। इसलिए उसने प्रिंसिपल को स्कूल में घुसकर हत्या कर दी थी।

इस केस मे कुल 16 लोगों की गवाही हुई। इसमें स्कूल चौकीदार, टीचर समेत अन्य स्टॉफ और भागते समय छात्र को पकड़ने वाले व्यक्ति की गवाही हुई। इस मामले में भागते समय छात्र को पकड़ने वाला कोर्ट में बयानों से मुकर गया था। लेकिन जब पीडित पक्ष के वकीलों ने कोर्ट में उसे छात्र के पकड़ने की फोटो और वीडियो दिखाई तो उसने कहा था कि फोटो में वही है। इसके अलावा इस केस में कोई गवाह नहीं मुकरा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *