जाट आरक्षण के मुद्दे पर सरकार ने नहीं की कोई वादाखिलाफी- सुभाष बराला

Breaking चर्चा में राजनीति शख्सियत सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Deepak Khokhar, Yuva Haryana

Rohtak, 30 July, 2018

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने जाट आरक्षण के मुद्दे पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि जाट आरक्षण के मुद्दे पर सरकार ने कोई वादाखिलाफी नहीं की है। जाट नेता यशपाल मलिक के वादाखिलाफी के आरोपों पर बराला ने कहा कि वे किसी एक व्यक्ति के प्रति जिम्मेदार नहीं है।

बता दें कि बराला सोमवार को रोहतक में भाजपा की आईटी सैल की बैठक में पहुंचे थे। पार्टी के प्रदेश कार्यालय में आयोजित इस बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि लोकसभा व विधानसभा चुनाव समय पर ही होंगे। इनेलो के बारे में उन्होंने कहा कि इनेलो के पास कोई मुद्दा नहीं है। दरअसल इनेलो खुद को टूटने से बचाने में लगी है।

सुभाष बराला ने कांग्रेस पार्टी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने अपने दस साल के शासनकाल में परिवारवाद, क्षेत्रवाद को बढ़ावा दिया और सीएलयू के नाम पर घोटाले किए व किसानों की अनदेखी की। मौजूदा भाजपा सरकार ने परिवारवाद, क्षेत्रवाद व भ्रष्टाचार को खत्म किया है।

एक सवाल के जवाब में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर व पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा दोनों ही मानते हैं कि कांग्रेस में टिकट बिकती हैं, क्योंकि तंवर कहते हैं कि इस बार टिकट नहीं बेची जाएंगी और हुड्डा भी कहते हैं कि टिकट नहीं बिकने देंगे।

पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के आरोपों पर सुभाष बराला ने पलटवार किया कि आज जो भी पैसा खर्च किया जा रहा है, वह जनहित में खर्च किया जा रहा है। हुड्डा के राज में तो किसानों को दो-नदो रुपए के चेक मिलते थे, जबकि भाजपा सरकार ने किसानों को सबसे ज्यादा मुआवजा देने का काम किया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *