हरियाणा की सहकारी चीनी मिलों ने की 43.95 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई, 3.34 लाख क्विंटल चीनी का किया गया उत्पादन

Breaking खेत-खलिहान चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Chandigarh, 12 Dec, 2018

हरियाणा की सहकारी चीनी मिलों ने चालू गन्ना पिराई मौसम के दौरान अब तक 43.95 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 3.34 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है।

हरियाणा राज्य सहकारी चीनी मिल प्रसंघ के प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि रोहतक सहकारी चीनी मिल ने सर्वाधिक 8.58 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 63,400 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है, जबकि शाहबाद सहकारी चीनी मिल ने 7.53 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 58,800 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है।

सहकारी चीनी मिल, करनाल ने 5.57 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 46,210 क्विंटल जबकि सहकारी चीनी मिल, कैथल ने 5 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 40,500 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। इसी प्रकार, सहकारी चीनी मिल, महम ने 4.91 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 31,150 क्विंटल व सहकारी चीनी मिल, जींद ने 4.53 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 37,475 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है।

उन्होंने बताया कि सहकारी चीनी मिल, पलवल ने 3.12 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 25,425 क्विंटल व सहकारी चीनी मिल, पानीपत ने 3 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 25,350 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है।

प्रवक्ता ने बताया कि हैफेड चीनी मिल, असंध ने 5.71 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 40,500 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश की सहकारी चीनी मिलों में अब तक की औसत शुगर रिकवरी 8.67 प्रतिशत रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *