किसान सुनील आत्महत्या मामले में ASI, हैड कांस्टेबल निलंबित

अनहोनी हरियाणा

Yuva Haryana
Panipat 19 March,2018
पानीपत में किसान सुनील द्वारा आत्महत्या के मामले में सिविल अस्पताल में जबरदस्त हंगामा किया गया। ग्रामिणों और परिजनों ने कहा था कि जब तक आरोपियों को सजा नहीं मिलेगी, तब तक शव को नहीं लेकर जाएंगे।

जानकारी मिलने के बाद डीएसपी मुख्यालय जगदीप दूहन और डीएसपी समालखा नरेश अहलावत ने अस्पताल पहुंचकर जानकारी दी की आरोपियों के खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे।

पुलिस प्रताड़ना से आहर युवा किसान सुनील ने अपनी जान ली थी। इस मामले में एएसआई सुभाष चंद्र और हैड कांस्टेबल वेद को निलंबित कर दिया गया है।

इन आरोपियों पर सख्त कार्यवाही किए जाने की बात के बाद ही परिजन शव लेने को तैयार हुए। जिसके बाद सुनील का अंतिम संस्कार किया गया।

फिलहाल दोनों आरोपियों के फरार होने की खबर सामने आई है।

क्यों की थी किसान सुनील ने आत्महत्या ?

गांव भापरा किसान सुनील ने कुछ दिन पहले अपने खेत में एक जोड़े को आपत्तिजनक हालत में पकड़ा था। जिसके बाद पुलिस जोड़े को अपने साथ ले गई थी।

अगले दिन पुलिस ने सुनील को थाने बुलाया और उसे अवैध हिरासत में रखा।

आरोप है कि पुलिस अधिकारी और दो अन्य ने उसे दुष्कर्म के झूठे मामले में फंसाने की धमकी दी थी और एक लाख रुपये की मांग भी की थी।

परिजनों ने बताया कि वो पुलिस को 10 हजार की रिश्वत देकर सुनील को घर लाए थे।
इस घटना से आहत सुनील ने जहर खा कर आत्महत्या कर ली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *