गुरु जम्भेश्वर यूनिवर्सिटी के सुपरीटेंडेट इंजीनियर ने की खुदकुशी

Breaking अनहोनी बड़ी ख़बरें हरियाणा

Vinod Saini, Yuva Haryana
Hisar, 3 May, 2018

हिसार की गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय में सुपरीटेंडेंट इंजीनियर के पद पर कार्यरत डाक्टर अशोक अहलावत ने गुरुवार को फांसी लगा आत्महत्या कर ली। घटना का पता उस वक्त चला जब जीजेयू में ही रह रहे डाक्टर अहलावत के घर खाना बनाने आए कुक को दरवाजा बंद मिला। करीब आधे घंटा इंतजार करने के बाद जब कुक ने जोर लगा दरवाजा खोला तो सामने  फंदे पर झूल रहे थे।

इसकी सूचना आस पास के लोगों को भी मिली तो पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंच शव के अपने कब्जे में लिया और डाक्टर अहलावत को सिविल अस्पताल ले जाया गया। सिविल अस्पताल पहुंचने पर डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

वहीं पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। हादसे के दौरान डाक्टर अहलावत के अलावा कोई घर का सदस्य मौजूद नहीं था। उनकी पत्‍‌नी भी किसी काम से बाहर गई हुई थी, सूचना मिलने पर वो करीब तीन बजे घर लौटी। वहीं उनके बच्चे भी घर पर नहीं थे। डाक्टर अहलावत की मौत की सूचना मिलते ही पूरी जीजेयू में मातम छा गया। डाक्टर अहलावत न केवल कंस्ट्रक्शन विभाग का काम देखते थे, बल्कि जीजेयू की अन्य कई तरह की गतिविधियों में शामिल रहते थे।पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम देर शाम को करवा दिया है।

पुलिस के अनुसार मृतक अशोक अहलावत के पिताजी एक भयंकर बीमारी से पीड़ित है जिसके चलते अशोक अहलावत मानशिक तौर से परेशान थे। इसी परेशानी के चलते फ़ासी लगा ली।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *