Home Breaking सुशील, साक्षी की ओलंपिक की जगी उम्मीद, दोबारा ट्रायल से खुल सकती है राह

सुशील, साक्षी की ओलंपिक की जगी उम्मीद, दोबारा ट्रायल से खुल सकती है राह

0
0Shares

Yuva Haryana, Chandigarh

ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार और साक्षी मलिक को टोक्यो ओलंपिक में खेलने के लिए एक बार फिर बडा अवसर मिल सकता है। कुश्ती की शीर्ष संस्था यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग ने टोक्यो ओलंपिक के क्वालीफायर अगले वर्ष कराने की तैयारी कर ली है। हालांकि भारतीय कुश्ती संघ को अब तक यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग से इस बारे में कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है। लेकिन भारतीय कुर्ती कुश्ती संघ का मानना है कि पूरे 1 साल तक ओलंपिक क्वालीफायर बढ़ने की स्थिति में उनके पास टीम चयन के लिए दोबारा ट्रायल कराने के अलावा कोई चारा नहीं बचेगा।

कुश्ती संघ का कहना है कि 1 साल क्या इसमें कुछ समय अवधि के लिए भी दोबारा ट्रायल कराने होंगे। आपको बता दें कि सुशील के भार वर्ग और साक्षी मलिक के 62 किलो में जितेंद्र और सोनम ने टीम में जगह बना रखी है। जितेंद्र और सोनम के क्वालीफायर में कोटा हासिल करने पर सुशील साक्षी की उम्मीदें खत्म हो जाती हैं, लेकिन अब इन दोनों के साथ नरसिंह यादव के फिर ट्रायल में खेलने के अवसर बन पड़े हैं। फ्रीस्टाइल में रवि 57 बजरंग 65 और दीपक पुनिया 86 के अलावा महिलाओं में विनेश 53 ने ओलंपिक टिकट हासिल कर रखा है। फ्रीस्टाइल में तीन और ग्रीको रोमन में 6 ओलंपिक कोटा हासिल करने बाकी हैं।

युडब्ल्यूडब्लयू अध्यक्ष नैनाद ललोविच की अगुवाई में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ब्यूरो सदस्यों की बैठक हुई। बैठक में ओलंपिक क्वालीफ़ायर जिन देशों को दिए गए थे, वहीं उन्हें उन्हीं तारीखों में अगले वर्ष कराए जाएंगे। कुश्ती संघ के एक अधिकारी के मुताबिक कुश्ती में इतने लंबे समय तक के लिए टीम बरकरार रखना मुश्किल है। ओलंपिक क्वालीफायर लंबा खींचने की स्थिति में दोबारा ट्रायल के अलावा कोई विकल्प नहीं बचेगा कुश्ती में दो एशियाई और एक विश्व ओलंपिक क्वालीफायर होने हैं।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पंचकूला में मिले कोरोना के चार नए मरीज, देखिए 24 घंटों कितनी हुई बढ़ोतरी

Umang Sheoran, Yuva Haryana, Panchkula पंचकूला &…