मोरनी गैंगरेप मामले में सस्पेंड पुलिसकर्मी ने खोले राज, दिखाए व्हाट्सएप्प मैसेज

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा

Umang Sheoran, Yuva Haryana
Panchkula, 21 July, 2018

मोरनी हिल्स के एक गेस्ट हाउस में एक 22 वर्षीय युवती के साथ 40 लोगों द्वारा गैंगरेप मामले में पुलिस सख्त से सख्त कार्रवाई कर रही है, लेकिन इस मामले में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है।

इस मामले में सस्पेंड हुई महिला थाना की एएसआई सरस्वती मीडिया के सामने आई है। सरस्वती ने अपने व्हाट्सएप्प पर महिला थाना की एसएचओ के साथ हुई बातचीत को दिखाया है, एक शिकायत भी दी है। सरस्वती ने कहा है कि जब मैंने महिला थाना एचएचओ राजेश कुमारी को सारी जानकारी दे दी थी तो मुझे क्यों सस्पेंड किया गया है।

सस्पेंड एएसआई सरस्वती ने दिखाए स्क्रीनशाट में साफ है कि सरस्वती ने इस केस की जानकारी महिला थाना एसएचओ राजेश कुमारी को दी थी, लेकिन एसएचओ राजेश कुमारी ने मनीमाजरा ( चंडीगढ़ ) पुलिस से बात करने की बात कही थी।

 

 

मोरनी गैंग रेप मामले की पीड़ित जब पंचकुला पुलिस के पास मदद को पहुंची तो जिले में कोई पी सी आर  उपलब्ध नही थी इसका खुलासा महिला कर्मचारी के व्हाट्सएप्प मैसेज से हुआ है। जब कण्ट्रोल रूम ने महिला थाने की पुलिस को पी सी आर उपलब्ध ना हो ने की बात कही थी।

इस मामले में महिला थाने की SHO की सीधे तौर पर लापरवाही सामने आई है वहीं पुलिस कंट्रोल रुम में हर वक्त गाड़ी होने का दावा किया जाता है, लेकिन उस वक्त पीड़िता को कंट्रोल रुम से कोई सहायता नहीं मिल पाई।

इन स्क्रीनशॉट को सच मानें तो सरस्वती ने एसएचओ राजेश कुमारी को मामले की जानकारी दी थी और महिला एसएचओ राजेश कुमारी ने सरस्वती से कहा कि चंडीगढ़ (मनीमाजरा) पुलिस से बात करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *