SYL का मुद्दा सर्वसहम्मति से कोर्ट के बाहर हल हो- अकाली नेता पूर्व मंत्री सिकंदर सिंह मलूका

Breaking हरियाणा

SYL दो राज्यों के लिए साख का सवाल बना हुआ है। एक तरफ मुख्य विपक्षी दल INLD इसको लेकर आर-पार के मुड़ में है, तो दूसरी तरफ अकाली दल भी इसके विरोध में है।

लेकिन अब अकाली दल के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सिकंदर सिंह मलूका ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने एसवाईएल नहर निर्माण का फैसला किया है, लेकिन पानी का बंटवारा अभी नहीं हुआ है। प्रधानमंत्री को चाहिए कि तीनों राज्यों को बैठाकर इसका सहमति से हल ढूंढे। इसका सर्वसम्मति से अदालत के बाहर ही फैसला होना चाहिए।

चुनाव को लेकर उन्होंने कहा कि अकाली दल हरियाणा में छोटे दलों के साथ मिलकर सभी विधानसभा क्षेत्रों में उम्मीदवार उतारेगा। अकाली दल ने चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं। 35 से अधिक सीटें देखी जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि इनेलो अपने चुनाव चिह्न पर ही उन्हें चुनाव लड़ाती थी। पार्टी नेता-कार्यकर्ता हक में नहीं थे। अब उसी पार्टी के साथ समझौता होगा जो सम्मानजक सीटें देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *