‘लिव- इन’ पर नो ऑब्जेक्शन, कम उम्र के शादी- शुदा जोड़े भी रह सकेते हैं साथ – सुप्रीम कोर्ट

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana Chandigarh, 6 May, 2018 सुप्रीम कोर्ट ने साफ- साफ कह दिया है कि विवाह हो जाने के बाद किसी भी कीमत पर उसे रद्द नहीं किया जा सकता। वर- वधू की कम उम्र या विवाह योग्य उम्र न होने पर भी जोड़ा लिव- इन में रह सकता है। इससे विवाह पर […]

Continue Reading