छुक-छुक कर कालका-शिमला हेरिटेज ट्रैक पर दौड़ा 112 साल पुराना भाप इंजन

देश बड़ी ख़बरें हरियाणा

सोमवार सुबह 9 बजकर 30 मिनट पर कालका-शिमला वर्ल्ड हेरिटेज ट्रैक पर एक बार फिर छुक-छुक और सीटियों की आवाज सुनाई दी। इस ट्रैक पर शिमला से कैथलीघाट स्टेशन तक 112 साल पुराना ऐतिहासिक भाप इंजन चलाया गया। भाप इंजन के साथ तीन बोगियां लगाई गई थीं। 23 ब्रिटेन के पर्यटकों ने शिमला से कैथलीघाट स्टेशन तक ऐतिहासिक भाप इंजन से जुड़ी बोगियों में सफर किया।

शिमला से कैथलीघाट तक 22 किलोमीटर दूरी के बीच जगह-जगह भाप इंजन को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। हर कोई भाप इंजन की एक झलक पाने को लालायित दिखा। शाम को भाप इंजन को वापस शिमला लाया गया। पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से उतर रेलवे ने यह भाप इंजन ट्रैक पर उतारा है। भाप इंजन में सफर करने के लिए कई पर्यटक उतर रेलवे से मांग कर रहे थे। इस कारण रेलवे ने शिमला-कालका रेलवे ट्रैक पर भाप इंजन चलाने का निर्णय लिया।

मंगलवार सुबह 9:30 बजे भाप इंजन फिर से ट्रैक पर नजर आएगा, जिसमें शिमला से कैथलीघाट तक का सफर किया जा सकेगा। बता दें कि 1906 में पहली बार भाप इंजन कालका-शिमला ट्रैक पर अंग्रेजों ने चलाया था। 1971 तक भाप इंजन ट्रैक पर दौड़ता रहा। 1971 से सर्विस करने के बाद इस इंजन को ट्रैक पर चलाना बंद कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *