भूत उतराने के लिए महिला को गहरे गडढे में दबाया, हुई मौत

Breaking अनहोनी बड़ी ख़बरें हरियाणा

Younus Alvi, Yuva Haryana

Punhana

हम आधुनिकता और बढ़ रहे है लेकिन आज भी हमें ऐसे कई किस्से देखने सुनने को मिल जाते है जो वहीं पुराने दौर के होते है।  प्रदेश के पुन्हाना के गांव शाहचौखा में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां नक्स-ताबीज देने वाली सहिदा नाम की महिला ने शैतानी हरकत यानि भूत प्रेत उतराने के चक्कर में तीन बच्चों की मां प्रमीना को करीब पांच फीट गडढे में गर्दन तक दबा दिया जिसकी वजह से महिला की मृत्यु हो गई।

महिला पलवल जिले के गांव भूडपुर की रहने वाली है। मामले को बिरादरी तौर पर सुलझाने के लिए दोनों पक्षों की गांव शाहचौखा में शाम दस बजे तक पंचायत चली लेकिन वह बेनतीजा रही।

पलवल जिले के गांव भूडपुर-उटावड निवासी साकिर ने बताया कि उसके तीन बच्चे हैं। उसकी तीस वर्षीय पत्नी प्रमीना को भूत-प्रेत की शिकायत थी। उसने पहले तो प्रमीना को सरकारी और प्राईवेट डाक्टरों को दिखाया जब उसका कहीं इलाज नहीं हुआ तो लोगों ने बताया कि प्रमीना को ऊपरी हरकत यानि भूत-प्रेत है। इसी वजह से वह प्रमीना को पुन्हाना खंड के गांव शाहचौखा में नक्स-ताबीज से भूत-प्रेत का इलाज करने वाली सहिदा के के पास ले गया।

साहिदा ने कहा कि उसका इलाज हो जाएगा। आरोपी महिला और उसके पति ने प्रमीना का इलाज नक्स-ताबीज से करने की बजाए उसे अपने ही आंगन में करीब पांच फीट गडढा खोदकर जमीन में गर्दन तक दबा दिया।

प्रमीना गड्ढे में करीब दो घंटे तक रही। प्रमीना चिल्ला रही थी कि उसे निकालो उसे घबराहट हो रही है नहीं तो वह मर जाएगी। लेकिन इलाज करने वाली महिला और उसके पति ने उसकी एक नहीं सुनी और करीब दो घंटे बाद उसकी मौत हो गई।

पीड़ित साकिर का कहना है कि उसने प्रमीना को जमीन से निकालने के लिए बहुत जोर दिया। वह खूब चिल्लाया और रोने लगा की प्रमीनो को जमीन के गड्ढे से निकाल दो नहीं तो वह मर जाऐगी। लेकिन आरोपी महिला और उसके पति ने जमीन में से निकालने का साफ इंकार कर दिया और कहा कि भूत-प्रेत का ऐसे ही इलाज होता है।

बहुत जोर-जबरदस्ती के बाद जब महिला को बाहर निकाला तो वह मर चुकी थी। आज भी हमारा समाज किन ढ़कौसलों में जीता है जहां एक बिमार महिला को तंत्र के नांम पर मार दिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *