अपराध पर की गई सख्ती का असर अब दिखने लगा है: एडीजीपी नवदीप सिंह विर्क

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Chandigarh, 01 July 2019

हरियाणा पुलिस की तरफ से अपराध पर की गई सख्ती का असर अब दिखने लगा है। प्रदेश में अपराध का ग्राफ अब पहले से कम हो रहा है। डकैती, लूटपाट और चोरी से संबंधित अपराध के मामलों में भी पहले से कमी आई है। पिछले साल के मुकाबले इस साल मई महीने तक क्राइम की औसत संख्या में 1.32 %की गिरावट देखी गई। कानून व्यवस्था के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक नवदीप सिंह विर्क का कहना है कि पिछले साल मई तक 3062 आपराधिक मामले दर्ज किए थे, लेकिन इस साल मई तक 3022 मामले दर्ज किए गए हैं।

वहीं प्रदेश में मई 2019 में संपत्ति से संबधित अपराध की कुल 3013 घटनाएं दर्ज की गई। जबकि पिछले वर्ष इसी समय तक 3127 घटनाएं दर्ज की गई थी । मई 2019 में अपहरण के 362 जबकि मई 2018 में 542 मामले दर्ज हुए थे। मई 2019 में हत्या के प्रयास के मामले 101 से घटकर 81 रह गए। गैर-इरादतन हत्या मामलों की संख्या 8 से घटकर 3, आत्महत्या के लिए उकसाने की घटनाएं 69 से कम होकर 60, आपराधिक धमकी 284 से कम होकर 271, चोरी की 2226 से 2144, स्नैचिंग के 342 से कम होकर 201 केस दर्ज हुए।

डकैती व लूटपाट 99 केस दर्ज किए गए। जबकि 2018 में यह आंकडा 114 था। एडीजीपी नवदीप सिंह विर्क ने कहा कि नशे पर कंट्रोल करने के लिए पुलिस कई कड़े कदम उठा रही है। ताकि प्रदेश में बढ़ रहे ड्रग्स के कारोबार पर नियंत्रण किया जा सके। विर्क का कहना है कि पुलिस की टीमें अपने – अपने ज़िलों में गश्त बढ़ाएगी। जिससे अपराधियों पर अंकुश लगाया जा सके।

सिर्फ 1.32% घटा मई महीने में हरियाणा में अपराध, पुलिस ने थपथपाई अपनी पीठ

इसी दौरान हत्या और बलात्कार के मामलों में हुआ काफी इजाफा, उसकी जिम्मेदारी किसकी ?

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *