ये भाई बहन मिलकर चोरी की बड़ी-बड़ी वारदातों को देते थे अंजाम, अब गिरफ्तार

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana 
Jind, 10 Oct, 2018

जींद क्षेत्र में अपनी बहन व अन्य तीन साथियों के साथ मिलकर चोरी की वारदातों को अंजाम देने के आरोप में रात्रि गश्त के दौरान सीआइए जींद की टीम ने बरसाना गांव के पास सफारी गाड़ी में मौजूद महिला सहित पांच आरोपियों पवन उर्फ पौनी गांव अशरफगढ़ निवासी, पवन की बहन सुनीता जींद निवासी, अमित उर्फ मित्ता निजामपुर जिला सोनीपत निवासी, बंटी व ऋषि विजय नगर जींद निवासी को गिरफ्तार करने में बड़ी कामयाबी हािसल की हैं।

इस बात का खुला्सा डीएसपी सुनील कुमार व सीआइए रविंद्र कुमार ने संयुक्त रूप से सफीदों थाना में प्रेसवार्ता के दौरान किया। डीएसपी ने बताया कि सीआइए टीम में तैनात सब इंस्पेक्टर रविंद्र कुमार व साइबर इंचार्ज एएसआई नवदीप सिंह बरसाना गांव की तरफ रात्रि गश्त कर रहे तो लिंक रोड पर एक सफारी गाड़ी डीएल-3सीडब्ल्यू-5०67 खड़ी थी ।

जब टीम ने पास जा कर देखा तो उसमें एक महिला सहित चार युवक सवार थे। जब उनसे उनकी पहचान पूछी तो उन्होंने अपनी पहचान पवन उर्फ पौनी गांव अशरफगढ़ निवासी, पवन की बहन सुनीता जींद निवासी, अमित उर्फ मित्ता निजामपुर जिला सोनीपत निवासी, बंटी व ऋषि विजय नगर जींद निवासी के रूप में बताई। पुलिस ने जब गहनता से पूछताछ की तो उन्होंने स्वीकार किया कि वह किसी बड़ी चोरी की वारदात को अंजाम देने की फिराक में घूम रहे थे । इससे पहले भी उन्होंने जींद क्षेत्र में लगभग 35 चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया हैं । डीएसपी ने बताया कि महिला सहित सभी आरोपियों को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा ताकि अन्य वारदातों का खुलासा किया जा सके ।
————-
डीएसपी सुनील कुमार ने बताया कि 7 अक्तूबर की रात को इसी सफारी गाड़ी में सभी आरोपी लुदाना गांव में टावर की बैटरियां चुरा रहे थे तभी वहां मालिक ने उन्हें देखा तो वह भाग गए लेकिन मालिक ने गाड़ी नंबर नोट कर पुलिस को दे दिया । इसी गाड़ी में रात भी सभी सवार होकर बरसाना गांव की तरफ चोरी करने की वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। जिन्हें वारदात से पहले ही काबू कर लिया गया।
————–
डीएसपी ने बताया कि महिला सुनीता अपने भाई पवन व अन्य तीन साथियों अमित, बंटी व ऋषि के साथ मिलकर सफारी गाड़ी में सवार होकर चोरी की घटनाओं को अंजाम देती हैं । पूछताछ में सामने आया कि अब तक जींद व लाखन माजरा में खेतों में लगे टांसफार्मर से तेल, मोटर पंखें चोरी करने की 32 वारदातों को अंजाम दिया हैं । वहीं जींद व लाखनमाजरा में 3 टावर की बैटरी चोरी की हैं। इस प्रकार कुल 35 के आसपास चोरी की वारदात को माना हैं। इतना ही नहीं टायर पेंचर की दुकान से चोरी, स्कूलों में जाकर चेारी करना, आंगनवाड़ी का सामान चोरी करना जैसी चोरी की वारदात को अंजाम देना रहा हैं । सीआइए ने इस गिरोह को पकड़ कर एक बड़ी कामयाबी हासिल की हैं ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *