जब रेलवे से जुड़ी इस कंपनी ने दिया जातिय आधार पर विज्ञापन, फिर जो हुआ देखिए

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Yuva Haryana

08 Nov, 2019

सामाजिक न्याय के लिए भारतीय संविधान ने सरकारी नौकरियों में सिर्फ कुछ जातियों को आरक्षण देने की व्यवस्था की है। लेकिन प्राइवेट सेक्टर को फिलहाल इससे छुट है। जातिय आधार पर भर्ती करने कह किसी को नहीं दिया है। लेकिन रेलवे कैटरिंग से जुड़ी एक कंपनी ने ऐसा ही कदम उठाया है।
IRCTC कैटरिंग कांट्रैक्टर के तौर पर कार्यरत ‘बृंदावन फूड प्रॉडक्ट्स प्रा लि’ ने रेलवे फूड प्लाजा मैनेजर, ट्रेन कैटरिंग मैनेजर तथा बेस किचन मैनेजर के 100 पदों की भर्तियों के लिए कंपनी ने अखबार में एक विज्ञापन दिया था जिसमें एक असामान्य बात थी। दरअसल इस विज्ञापन में अभ्यर्थीयों के लिए योग्यताओं में एक विशेष अग्रवाल वैश्य समाज से होने की शर्त रखी गई थी। जब लोगों ने इस विज्ञापन को देखा तो इसे सोशल मीडिया के जिरये यह विज्ञापन वायरल हो गया। जिसकी वजह से न सिर्फ कंपनी बल्कि रेलवे की जमकर ट्रोल होना पड़ा।
रेलवे की ओर से कार्रवाई की चेतावनी के बाद कंपनी को माफी मांगनी पड़ी बल्कि संशोधित विज्ञापन प्रकाशित करने का आदेश भी देना पड़ा।
जूनियरHR मैनेजर निलंबित
रेल मंत्रालय के अधिकारियों ने IRCTC से जब जवाब मांगा तो बदले में IRCTC ने कंपनी को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया। जिसके बाद कंपनी ने अपनी गलती मानी और अपने जूनियर HR मैनेजर को निलंबित कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *