27.2 C
Haryana
Sunday, September 27, 2020

प्रदेश में इस बार खाद, बीज की नहीं आएगी कमी, कृषि मंत्री ने किसानों को किया आश्वस्त

Must read

मोदी सरकार को झटका, पुराने साथी अकाली दल ने कृषि कानूनों के विरोध में गठबंधन तोड़ा

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September देश में नए कृषि कानूनों का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन कानूनों को लेकर भारतीय...

प्रदेश में आज कोरोना के 1689 नए केस, तेजी से बढ़ी रिकवरी रेट, देखें Medical Bulletin 

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 September, 2020 हरियाणा में अब कोरोना के रिकवरी रेट में सुधार हो रहा है। हरियाणा के दस हजार से ज्यादा लोगों...

हरियाणा पुलिस का बड़ा कारनामा, गाड़ी में हैलमेट नहीं पहना तो काट दिया चालान 

Yuva Haryana News Panipat, 26 September, 2020 हरियाणा पुलिस पहले भी अपने कारनामों को लेकर अक्सर विवादों में रहती है। अब पानीपत से पुलिस का एक और...

राजनीतिक नियुक्तियों पर मुख्यमंत्री ने की भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से बातचीत, मंत्रिमंडल विस्तार अभी नहीं

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार शाम दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से विशेष मुलाकात की...

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 18 June, 2018

हरियाणा मे पहली बार आगामी फ़सल की संपूर्ण आयोजना की बैठक में आज “ख़रीफ़ 2018 “से सम्बंधित समस्त पहलुओं को लेकर प्रारम्भ हुई है । बैठक में ख़रीफ़ 2018 की फ़सल का सम्भावित प्रारूप, समस्त इनपुट की आयोजना, सिंचन जल की उपलब्धता, रोगों की चुनौतियों से बचाना, फ़सल की पूर्णता पर ख़रीद, समस्त तैयारियों के विचारार्थ व चुनौतियों के आकलन व उनकी पूर्व तैयारी निमित यह पहली बैठक हुई है । यह जानकारी कृषि मंत्री औमप्रकाश धनखड़ ने दी ।

आगामी वर्षो मे इसे परम्परा बनाया जायेगा । जून की बजाय मई के अंतिम सप्ताह मे ख़रीफ़ बैठक तथा सितम्बर माह मे रबी की बैठक किया करेंगे। 14.72 लाख हेक्टेयर पर 90 लाख टन जिसमें 60 लाख टन मोटा धान व 30 लाख टन बासमती उत्पादन होने की सम्भावना है ।

5 लाख हेक्टेयर भूमि पर 7 लाख टन बाजरा, पचास हज़ार हेक्टेयर भूमि पर पचास हज़ार टन ज्वार, 5.69 लाख हेक्टेयर भूमि पर 23 लाख गाँठें, 10 हज़ार हेक्टेयर भूमि पर 60 हज़ार टन तथा बीस हज़ार हेक्टेयर भूमि पर 15 हजार टन दालें उत्पन्न होने की सम्भावना है ।

दस हज़ार क्विंटल बीज की आवश्यकता है । उपलब्धता लगभग दुगनी है । 8 लाख क्विंटल यूरिया, व तीन लाख क्विंटल डी ए पी की आवश्यकता है । उपलब्धता पर्याप्त है ।

सिंचाई के जल, सिंचाई हेतु बिजली आपूर्ति, व ख़रीद के समस्त इंतज़ामों की समीक्षा की गई । इस बार अच्छा मानसून आने की सम्भावना है । लेकिन मानसून की चुनौतियों को भी ध्यान मे रखते हुये यदि कोई कठिनाई आती है तो, वैकल्पिक योजनाओं पर भी विचार किया गया ।

फ़सलो का बीमा 37 % फ़सलो तक विस्तारित है । 137 करोड़ अवशेष प्रबंधन पर ख़र्च करेंगे ।

इस बैठक मे सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर, किसान आयोग के चेयरमैन डा० रमेश यादव व सभी सदस्य, हैफड चेयरैन हरविंदर कल्याण, वेयर हाउसिंग के चेयरमैन श्री निवास गोयल, चेयरमैन अग्रो इंडस्ट्री चेयरमैन गोविंद भारद्वाज, चेयर मैन भूमि सुधार अजय गौड़ ,अतिरिक्त मुख्य सचिव सहकारिता विभाग नवराज संधु, अतिरिक्त मुख्य सचिव खाद्य आपूर्ति विभाग रामनिवास, कृषि सचिव अभिलक्ष लेखी, मार्केट बोर्ड के सचिव मंदीप बराड़, सिंचाई विभाग के प्रमुख अभियंता विरेंद्र सिंह व अन्य अधिकारी उपस्थित थे ।

More articles

Latest article

मोदी सरकार को झटका, पुराने साथी अकाली दल ने कृषि कानूनों के विरोध में गठबंधन तोड़ा

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September देश में नए कृषि कानूनों का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन कानूनों को लेकर भारतीय...

प्रदेश में आज कोरोना के 1689 नए केस, तेजी से बढ़ी रिकवरी रेट, देखें Medical Bulletin 

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 September, 2020 हरियाणा में अब कोरोना के रिकवरी रेट में सुधार हो रहा है। हरियाणा के दस हजार से ज्यादा लोगों...

हरियाणा पुलिस का बड़ा कारनामा, गाड़ी में हैलमेट नहीं पहना तो काट दिया चालान 

Yuva Haryana News Panipat, 26 September, 2020 हरियाणा पुलिस पहले भी अपने कारनामों को लेकर अक्सर विवादों में रहती है। अब पानीपत से पुलिस का एक और...

राजनीतिक नियुक्तियों पर मुख्यमंत्री ने की भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से बातचीत, मंत्रिमंडल विस्तार अभी नहीं

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार शाम दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से विशेष मुलाकात की...

Corona virus है या फ्लू सर्दियों,  ये 2 बड़े लक्षण बताएंगे फर्क

Yuva Haryana News Chandigarh , 26 September, 2020 सर्दी और बरसात में हमें अक्सर जुखाम हो जाता है। कई बार तो हम इस बीमारी से 4-5...