रोहतक रोड पर मिले तीन सिर कटे शव बने पुलिस के लिए पहेली, अब तक नहीं हो सकी शवों की पहचान

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Bhiwnai, 8 Jan, 2019

भिवानी में मिले तीन सिर कटे शवों की पहचान ना होने के चलते पुलिस के लिए पहेली बन गई है। पुलिस शवों की पहचान व जांच के लिए मध्य प्रदेश के खुजराहो तक पहुंच गई है। एसपी गंगाराम पूनिया ने बताया कि इस मामले में आसपास के जिलों के साथ दिल्ली व एमपी पुलिस की मदद ली जा रही है। साथ ही एसपी ने आमजन से अपने परिवार या आसपास से एक महिला व दो बच्चों की लापता होने की सूचना भिवानी पुलिस को देने की अपिल की है।

पूरा मामला 28 दिसंबर 2018 का है। इस दिन रोहतक रोड पर खरक गांव के खेतों में एक प्लास्टिक के ड्रम में सिर कटे तीन शव मिले थे। इस घटना ने पुलिस के भी रोंगटे खड़े कर दिए थे क्योंकि तीनों को बुरी तरह से तेजधार हथियार से काटा गया था। शुरुआती दौर में शवों की पहचान तो दूर, ये तक पता नहीं चल पा रहा था कि शव महिला का है या पुरुष के हैं। इंसानियत को शर्मसार व डरा देने वाली ये घटना आज तक पुलिस के लिए पहेली बनी हुई है।

एसपी गंगाराम पूनिया ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद पता चला है कि एक शव 30-35 वर्षिय महिला का, एक शव 10-12 वर्षिय बच्ची और एक शव 2-3 साल की बच्ची का है। उन्होंने बताया कि शवों के पास मिले कपड़े के थैले पर लिखे पते के हिसाब से पुलिस मध्य प्रदेश के एतिहासिक पर्यटन क्षेत्र खुजराहो तक पहुंच चुकी है। इस मामले में आसपास के जिलों की पुलिस के अलावा दिल्ली व मध्य प्रदेश की पुलिस की मदद भी ली जा रही है।

इस मामले में खुजराहो क्षेत्र में पंपलेट चस्पा कर लोगों से पहचान की अपील की गई है। साथ ही उन्होंने बताया कि हरियाणा, दिल्ली व मध्य प्रदेश में 28 अगस्त से कुछ रोज पहले लापता लोगों का डाटा जुटाया जा रहा है। एसपी ने मीडिया के माध्यम से लोगों को अपने परिवार या आसपास में इस दौरान लापता हुई एक महिला व दो बच्चियों की जानकारी सीधे भिवानी पुलिस को देने की अपील भी की।  जांच में सबसे पहले शवों की पहचान होना जरूरी है। हालांकी इस मामले में डीएसपी स्तर के अधिकारियों की निगरानी में भिवानी पुलिस की पांच टीमें जांच कर रही है।

पुलिस को अंदेशा है कि सिर कटे ये तीनों शव दूसरे राज्यों से इंट भट्ठों पर काम करने के लिए आने वाले मजदूर परिवार के हो सकते हैं। ऐसे में अब देखना होगा कि हर समय पुलिस से सेवा, सुरक्षा व सहयोग की उम्मीद करने वाली जनता इस मामले में पुलिस का कितना सहयोग करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *