पानी बचाने के लिए 46 हजार टूंटियां लगा चुकी है सरकार, 31 दिसंबर तक 50 हजार और लगेंगी

सरकार-प्रशासन हरियाणा

Yuva Haryana

जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डॉ बनवारी लाल ने कहा कि उनके विभाग के तहत टूंटी लगाओ-जल बचाओ अभियान चलाया जा रहा है और इस अभियान के तहत अभी तक 46500 टूंटी लगाई जा चुकी है तथा आगामी 31 दिसंबर 2018 तक लगभग 1.05 लाख टुटी लगाई  जाएगी। 
उन्होंने कहा कि इसके अलावा, ओवरहेड टैंक पर बाल्व लगाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान आखरी टेल तक पानी पहुंचाया गया है जो एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि सरकार ने टेलों की मरम्मत व उपकरणों के रखरखाव के लिए 143 करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत की है। 
 उन्होंने कहा कि राज्य के लोगों को सुविधा देने के लिए उनके विभाग द्वारा जल्द ही नई-नई तकनीकों को अपनाने पर विचार किया जा रहा है जिससे पेयजल आपूर्ति और सीवरेज जैसी सुविधाओं को सुदृढ किया जाएगा। 
डॉ बनवारी लाल ने कहा कि उनके विभाग से संबंधित मुख्यमंत्री द्वारा 399 घोषणाएं की गई हैं जिनमें से 119 घोषणाएं पूरी कर दी गई है और 120 घोषणाओं पर कार्य चल रहा है। 
डॉ बनवारी लाल ने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान 164 कैनाल आधारित और 96 ट्यूबवेल लगाए गए हैं । इसके अलावा, 483 बूस्टिंग स्टेशन तथा 56 एसटीपी स्थापित किए गए हैं । उन्होंने कहा कि पिछले दो-तीन साल से पानी की किल्लत को लेकर किसी प्रकार का कोई विरोध नहीं हुआ है क्योंकि पानी की सप्लाई लगातार लोगों को करवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों वे सिंगापुर में गए जहां पर उन्होंने आधुनिक उपकरणों को देखा और आने वाले समय में इस प्रकार के उपकरण राज्य में लोगों की सुविधाओं को देखते हुए प्रयोग में लाए जाएंगे। 
इसी प्रकार उन्होंने सौर ऊर्जा के बारे में कहा कि सौर ऊर्जा एक महत्वपूर्ण और ग्रीन एनर्जी का जरिया है जिससे किसी भी प्रकार का प्रदूषण नहीं होता है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में सौर ऊर्जा पर जाना होगा क्योंकि साल के 300 दिन तक सूरज की रोशनी भारत में होती है और सौर ऊर्जा का एक अच्छा विकल्प है। सरकार ने सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए सौर ऊर्जा नीति 2016 बनाई है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *