तीन लोगों के मिले थे बन्द बोरे में शव, दो आरोपी गिरफ्तार

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Bhiwani, 27 Jan, 2019

भिवानी पुलिस ने एक माह पहले मिले सिर कटे तीन शवों के मामले में बङी कामयाबी हांसील हुई है। हैरानी की बात ये है कि ये तीन हत्याएं तीन लोगों ने मिलकर की और पहचान छुपाने के लिए शवों को प्लास्टिक के ड्रम में छिपा कर खरक गांव के खेतों में फैंक दिया। फिलहाल पुलिस ने शवों की पहचान कर दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी व शवों के सिरों की तलास बाकी है।
बता दें कि 28 दिसंबर को रोहतक रोङ पर खरक गांव के खेतों में एक प्लास्टिक के ड्रम में बङी ही बेरहमी से काटे गए तीन शव मिलने मिले थे। पुलिस ने जांच सुरू की तो हैरान रह गई। क्योंकि तीनों शवों के सिर गायब थे। शव महिला के हैं या फिर पुरुष के ये तक पहचान नहीं हो पा रही थी। साथ ही इस मामले में कई दिनों तक कोई शिकायतक्रता भी सामने नहीं आया था। ऐसे में बिना पहचान व शिकायतकर्ता के इस ट्रिपल ब्लाईंड मर्डर की गुत्थी को सुलझाना पुलिस के लिए सिर दर्द बन गया था।
अक्सर ऐसे मामलों की फाईलें दब कर रह जाती हैं, पर भिवानी पुलिस ने भी हार नहीं मानी। शवों के पास मिले कपङे के थैले पर लिखे पते के आधार पर मध्यप्रदेश के खुजराहों तक पहुंची। पुलिस ने यहां पम्पलेट चस्पा किये और वहां की पुलिस व लोगों से सहयोग मांगा। साथ ही पुलिस आसपास के जिलों के साथ दिल्ली व असम राज्य तक जांच के लिए पहुंची। करीब एक माह बाद दिन रात की कङी मेहनत से पुलिस को जो सुराग हाथ लगे, उसके बाद एक के बाद एक कामयाबी मिलती गई।
एसपी गंगाराम पूनिया ने पूरे मामले का खुलासा करते हुए बताया कि असम निवासी एक महिला जो एक बच्ची की मां थी वह असम से भिवानी रहने लगी थी। वह रोहतक गेट निवासी एक कबाङी के संपर्क में आई और फिर उसी के पास रहने लगी। कुछ दिनों बाद इन दोनों के एक बेटी हुई। इसी बीच राजेश कबाङी के घर वालों के भी पता चला कि वह एक महिला के साथ रह रहा है और उसकी दो बेटियां भी हैं। परिवार के डर व समाज की शर्म से राजेश कबाङी में इस महिला से झुटकारा पाने की ठानी। एसपी गंगाराम पूनिया ने बताया कि परिजनों के साथ उक्त महिला भी राजेश को अपनी पहले वाली बच्ची का पिता बनने व उसके कागज बनवाने तथा खर्च के लिए पैसे मांग रही थी।
एसपी ने बताया कि इसी बीच राजेश कबाङी ने अपने पाटर्न भिवानी निवासी पूरन उर्फ फौजी व कबाङी की दूकान पर काम करने वाले मध्य प्रदेश के मखन लाल के साथ मिलकर असम निवासी महिला व उसकी दोनों बेटियों की 26-27 दिसंबर की रात को बङी ही बेरहमी से हत्या कर सिरों को धङों से अलग कर दिया। उन्होने बताया कि अगले दिन 27-28 दिसंबर की रात को तीनों ने तीनों शवों को एक प्लास्टिक के ड्रम में डाल कर खरक गांव के खेतों में फैंक दिया। एसपी गंगाराम पूनिया ने बताया कि आसपास की जिलो के साथ दिल्ली, मध्य प्रदेश व असम राज्य में जांच के बाद शवों की पहचान हुई और इस मामले में मध्य प्रदेश के मखन लाल व भिवानी निवासी पूनम उर्फ फौजी को गिरफ्तार कर कोर्ट के रिमांड पर लिया गया है। उन्होने बताया कि दोनों आरोपियों से पुछताछ के बाद जल्द ही मुख्य आरोपी राजेश कबाङी की गिरफ्तारी की जाएगी और तीनों शवों के सिरों के बरामद किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *