करोड़ों की बीमा पॉलिसी का पैसा हड़पने के लिए युवकों ने रची ऐसी खौफनाक साजिश

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Palwal, 18 Feb,2019

हरियाणा के पलवल जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां बीमे की राशि हड़पने के लिए दो युवकों ने अपने ही दो दोस्तों की जिंदा जलाकर हत्या कर दी। दोनों आरोपी मंडकोला गांव के रहने वाले हैं।

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की सुबह बरसाना-छाता मार्ग पर आजनौख गांव के नजदीक एक मारुति ईको कार पूरी तरह से जली हुई हालत में मिली थी, कार में दो शव भी जले हुए मिले थे। पहले अंदाजा लगाया था कि शॉर्ट सर्किट के चलते कार में आग लग गई होगी और कार में सवार दो व्यक्ति उसमें जलकर मर गए होंगे। दोनों शव इतनी बुरी तरह से जले थे कि उनकी कोई शिनाख्त नहीं हो पा रही थी।

जांच में पुलिस को पता चला कि कार में दो नहीं चार युवक सवार थे, जो मंडकोला से गोवर्धन के लिए निकले थे, लेकिन मौके पर दो के ही शव मिले। इसके बाद पुलिस ने आगे की जांच शुरू की और कार मालिक के मोबाइल की लोकेशन व कॉल डिटेल मालूम कर उसका पता लगाया तो वह जिंदा मिला।

पुलिस जांच में पता चला कि पूरी साजिश लालाराम (35) ने रोहताश (34) ने रची थी। लालाराम और रोहताश ने पहले योजना बनाकर एक माह महीने पहले जनवरी में 3 करोड़ 20 लाख रुपए की बीमा पॉलिसी खरीदी और खुद को मरा साबित करके बीमा राशी हड़पने की योजना बनाई। 5-5 लाख रुपए का लालच देकर बीमा एजेंट कृष्ण और बीर सिंह को भी इसमें शामिल कर लिया। योजना के मुताबिक उन्होंने मथुरा घूमने का प्रोग्राम बना लिया।

उन्होंने अपनी लाशें बरामद कराने के लिए गांव के दो अन्य दोस्त लेखन (38) और कुंवरपाल (40) को साथ ले लिया। गुरुवार की रात घर लौटते समय योजनानुसार दोनों ने लेखन और कुंवरपाल को नशे में धुत कर कार में आग लगा दी और उसके बाद वे फरार हो गए।

हालांकि जब वे दोनों वापस घर नहीं पहुंचे और उनके मोबाइल फोन की लोकेशन मथुरा तक मिली और उसके बाद फोन बंद हो गया तो लालाराम के बड़े भाई चिरंजीलाल ने उनकी गुमशुदगी दर्ज करा दी।

पुलिस को जब जांच में यह पता चला कि लालाराम और रोहताश ने अभी हाल ही में बीमा कराया था तो पुलिस को दोनों पर शक हो गया। दोनों के मोबाइल नंबर को सर्विलांस पर लेकर पुलिस ने उनकी हर हरकत का पता लगाया और लालाराम को दबोच लिया। आरोपित रोहताश अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।

पुलिस अधिकक्ष विनोद कौशिक के मुताबिक लालाराम टीवी सिरियल क्राइम पेट्रोल देखता था, इसे देखकर ही उसने ऐसी योजना बनाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *