राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नाम रहेंगे दो साल, 2 अक्टूबर से शुरु होंगे कार्यक्रम

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 31 August, 2018
केन्द्र सरकार ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की 150वीं जयंती को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मनाने के लिए गए निर्णय के अनुसार हरियाणा सरकार भी उनकी जयंती को पूरे प्रदेश में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाने के लिए कार्यक्रमों का आयोजन करेगी, जो आगामी दो वर्षों तक चलते रहेंगे।
इस वर्ष 2 अक्तूबर को राष्ट्रपिता  महात्मा गांधी की 150वीं जयंती से कार्यक्रम आरम्भ होंगे और 2 अक्तूबर, 2020 तक जारी रहेंगे। राष्ट्रपिता  महात्मा गांधी ने देश को आजाद करवाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा की और अहिंसा के मार्ग पर चलने की उनकी शिक्षा ने कई मायने में हमें प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि 2 अक्तूबर को पूरा विश्व अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाता है। 
26 जनवरी, 2019 को गणतंत्र दिवस की परेड में हरियाणा की सभी झांकियों में महात्मा गांधी की जीवनी को समर्पित होंगी। इसके अलावा, वर्ष 2019 में विधानसभा का एक विशेष सत्र बुलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके अलावा, पदयात्राएं निकाली जाएंगी जिसमें पूरे राज्य के हर गांव को कवर किया जाएगा। इस पदयात्रा में 150 युवा प्रतिदिन 10 किलोमीटर तय करेंगे और यह पदयात्रा 150 दिन तक चलेगी। इसी प्रकार, साईकिल यात्रा, सरकार के कार्यक्रमों के बारे में जागरूक करने के लिए कार्यक्रम चलाए जाएंगे, नशा विरोधी तथा महात्मा गांधी की शिक्षाओं के प्रति लोगों को जागरूक किया जाएगा।  
सांस्कृतिक सम्बंधों को सुदृढ़ करने की दृष्टि से एक भारत-श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम के तहत हर राज्य से पांच विद्यार्थी शामिल किये जाएंगे, जो कुछ समय तक शिविरों में एक साथ रहेंगे। महात्मा गांधी जी के जीवन पर लघु फिल्म व अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाएगा। स्कूलों में निबंध, चित्रकला और प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताओं का आयोजन भी करवाया जाएगा। इसके अलावा, स्वच्छ भारत, खादी को बढ़ावा देने के लिए खादी एवं ग्राम उद्योग को प्रोत्साहित किया जाएगा और वर्ष 2019 को शांति एवं साम्प्रदायिक सौहार्द वर्ष घोषित किया जाएगा।
सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए गांधी जी पर राष्ट्रीय राजमार्गों पर चलचित्र, डिस्पले बोर्ड व अन्य सूचनात्मक वाक्य प्रदर्शित किये जाएंगे। समाज के कमजोर वर्गों, अनुसूचित जाति व पिछड़े वर्गों के सामाजिक व आर्थिक उत्थान के अनेक कार्यक्रम भी चलाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इसके अलावा, महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाने के कार्यक्रमों में जलस्त्रोतों के पुनरोत्थान व जल संरक्षण को एक मिशन मोड में मनाया जाना, महिला एवं कमजोर वर्गों के विरूद्ध हिंसा व अपराध को रोकने के लिए लोगों को जागरूक करना शामिल है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *